यात्रियों की सुविधा के लिए कम दूरी की आरक्षित ट्रेनें चलाने की तैयारी शुरू

-पहले चरण में कम दूरी की स्पेशल ट्रेनें जल्द होंगी बहाल

लखनऊ । उत्तर रेलवे प्रशासन ने कोरोना के घटते मामलों को देखते हुए कम दूरी की आरक्षित ट्रेनों को जल्द चलाने की तैयारी शुरू कर दी है। फिलहाल पैसेंजर ट्रेनों के संचालन पर अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अजीत सिन्हा ने मंगलवार को बताया कि मौजूदा हालात को देखते हुए सिर्फ कम दूरी की आरक्षित ट्रेनों को ही चलाया जा सकता है। फिलहाल अनारक्षित टिकट प्रणाली (यूटीएस) की मरम्मत कराई जा रही है लेकिन टिकटों की बिक्री अभी शुरू नहीं होगी।

उन्होंने बताया कि रेलवे पहले चरण में कम दूरी की इंटरसिटी स्पेशल ट्रेनों को जल्द बहाल करेगा। इसमें कानपुर से प्रतापगढ़, फैजाबाद से कानपुर अनवरगंज, लखनऊ से वाराणसी और लखनऊ से प्रयागराज के बीच चलने वाली इंटरसिटी स्पेशल ट्रेनें शामिल हैं। इसके अलावा लखनऊ से प्रयागराज जाने-आने वाली ट्रेन को बहाल कर दिया गया है। इस ट्रेन में आरक्षित यात्री ही सफर कर रहे हैं।

दरअसल, रेलवे का मानना है कि कोविड-19 का संक्रमण कम हुआ है, लेकिन अभी खत्म नहीं हुआ है। पैसेंजर ट्रेनों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं हो सकेगा। ऐसे में रेलवे आरक्षित टिकटों के साथ कम दूरी की ट्रेनें चलाकर यात्रियों को राहत देने की तैयारी कर रहा है।

लखनऊ होकर चलने वाली क्लोन स्पेशल ट्रेन का समय बदला
रेलवे प्रशासन ने राजगीर से चलकर लखनऊ होते हुए नई दिल्ली जाने वाली क्लोन श्रमिक स्पेशल ट्रेन की समय सारिणी में 16 जून से 15 जुलाई तक बदलाव कर दिया है। यह ट्रेन लखनऊ और वाराणसी जंक्शन पर बदले समय पर चलाई जाएगी। रेलवे प्रशासन के मुताबिक, 03391 राजगीर-नई दिल्ली क्लोन स्पेशल ट्रेन परिवर्तित समय पर अपराह्न 02:05 बजे वाराणसी रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। यहां पर करीब दस मिनट का ठहराव लेकर परिवर्तित समय शाम 06:15 बजे लखनऊ रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी।

Check Also

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्कूली बच्चों के साथ बनाया आजादी का अमृत महोत्सव

लखनऊ,द ब्लाट। हाथों में राष्ट्रध्वज तिरंगा, मन में राष्ट्र के लिए कुछ कर गुजरने की …