उत्तरप्रदेश: प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास में घोटाले की जांच करने पहुंचे डीपीआरओ

द ब्लाट न्यूज़ खबर यूपी के सीतापुर जनपद के विकासखंड मछरेहटा की ग्राम पंचायत निघुवामऊ से है जहाँ प्रधानमंत्री आवास सूची की जांच करने पहुंची जिले की तीन सदस्यीय टीम डीपीआरओ मनोज सिंह,एई राजेश्वर सिंह व दिव्यांग जन कल्याण अधिकारी रवी सिंह गिरी ने लाभार्थियों के घर घर जाकर जांच पड़ताल की।

बताते चलें कि पूर्व मे आवास सूची में 52 लाभार्थियों के नाम थे जिसकी जांच सचिव प्रमोद कुमार व एडिओ सहकारिता मयंक बाजपेई ने की थी, और 52 लाभार्थियों को अपनी जांच में सभी को अपात्र घोषित कर दिया था जिसके चलते क्षेत्रीय विधायक रामकृष्ण भार्गव व ग्राम प्रधान द्वारा लिखित शिकायत पत्र शासन को दिया था कि ग्राम पंचायत निघुआमऊ में पात्र लोगों को आवास ना देकर सचिव प्रमोद कुमार द्वारा लाभार्थियों से सुविधा शुल्क की मांग की थी।

लाभार्थियों ने जब शुविधा शुल्क नहीं दिया तो पात्र लाभार्थियों को भी अपात्र घोषित कर दिया था जिस पर शासन ने इस पत्र को संज्ञान में लेते हुए जिले से 3 सदस्य टीम गठित कर प्रधानमंत्री आवास जांच के आदेश दे दिए। जिस पर बुधवार को ग्राम पंचायत निघुवामऊ में डीपीआरओ मनोज सिंह के नेतृत्व में गहनता से जांच की गई।

इस संबंध में जब डीपीआरओ मनोज सिंह से बात की गई तो बताया कि अभी पूर्ण रूप से जांच नहीं हो पाई है लगभग 24 लाभार्थियों की जांच करनी है जिसमें 18 लाभार्थियों की मैंने जांच कर ली है शेष जांच आगे की जाएगी तभी उस पर जो भी कार्रवाई बनेगी वह संबंधित कर्मचारियों पर की जाएगी इस मौके पर एडीओ पंचायत संदीप कुमार ,ग्राम पंचायत सचिव प्रमोद कुमार, ग्राम प्रधान बृजेश दीक्षित, एडीओ सहकारिता मयंक बाजपेई सहित काफी ग्रामीण मौके पर उपस्थित रहे।

Check Also

लक्ष्मीनारायण चौधरी ने कहा-यूपी में सबसे अधिक मतों से जीतेंगी हेमामालिनी

मथुरा। उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने रविवार को कहा कि मथुरा …