ऋषिकेश: राजस्थान में अल्ट्रामेगा अक्षय ऊर्जा पावर पाक्र्स स्थापित करेगी टीएचडीसी

द ब्लाट न्यूज़ राजस्थान में टीएचडीसी राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के साथ मिलकर अल्ट्रामेगा अक्षय ऊर्जा पावर पाक्र्स की स्थापना करेगी। इससे प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से लगभग 10,000 लोगों को रोजगार प्राप्त होगा।

 

 

टीएचडीसी के सीजीएम सोलर पावर एसएस पंवार ने बताया कि जयपुर में बीती सोमवार को टीएचडीसी और राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के बीच एग्रीमेंट हुआ है।

कंपनियां करेंगी अल्ट्रामेगा अक्षय ऊर्जा पावर पाक्र्स की स्थापना 

इस पर राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के अध्यक्ष आशुतोष एटी पेडणेकर तथा प्रबंध निदेशक अनिल डाका की उपस्थिति में राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के तकनीकी निदेशक डीके शर्मा तथा टीएचडीसी के चीफ जनरल मैनेजर सोलर एसएस पंवार ने हस्ताक्षर किये। इस समझौते के मुताबिक राजस्थान में दोनों कंपनियां मिलकर अल्ट्रामेगा अक्षय ऊर्जा पावर पाक्र्स की स्थापना करेंगी।

विकसित की जाएंगी 10,000 मेगावाट क्षमता की अक्षय ऊर्जा 

इस ज्वाइंट वेंचर कम्पनी द्वारा प्रदेश में 10,000 मेगावाट क्षमता की अक्षय ऊर्जा परियोजनायें प्रदेश के विभिन्न स्थानों में चरणबद्ध रूप से विकसित की जाएंगी। इससे सस्ती अक्षय ऊर्जा की प्राप्ति होगी। फ्लोटिंग सोलर और पम्प स्टोरेज हाईड्रोप्लाट को भी राजस्थान में विकसित करने के लक्ष्यों पर विचार विमर्श किया जाएगा। राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के प्रबंध निदेशक अनिल ढाका ने बताया कि राजस्थान में 10,000 मेगावाट क्षमता के अल्ट्रामेगा अक्षय ऊर्जा पॉक्र्स की स्थापना से राज्य के सामाजिक एवं आर्थिक विकास के साथ-साथ राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के कार्यकलापों के दायरे का विकास होगा।

ऊर्जा पाक्र्स की स्थापना पर लगभग 40,000 करोड रुपये का निवेश होगा तथा प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से लगभग 10,000 लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। इससे स्थानीय लोगों की आर्थिक स्थिति और जीवन स्तर का विकास होगा। प्रथम चरण में वर्ष 2025 तक 2000 मेगावाट क्षमता के सोलर पॉक्र्स का विकास किया जायेगा।

Check Also

दुर्ग: गंदे पानी पीने की समस्या को कलेक्टर संज्ञान में लेते हुए नगर निगम रिसाली को दिए निर्देश

द ब्लाट न्यूज़ दुर्ग निवासी दिव्यांग आवेदक राजू लाल देवांगन ने बैंक में जमा फिक्स डिपाजिट …