रूस से आई भारत के लिए एक और खुशखबरी

मॉस्को। रूस और यूक्रेन युद्ध में अग्रिम मोर्चे पर लड़ रहे भारतीय नागरिक भी शामिल हैं। रूसी सेना की ओर से लड़ रहे कई भारतीयों की मौत भी हो चुकी है। इसी बीच रूस ने जानकारी दी है कि उनकी सेना की ओर से लड़ रहे भारतीय नागरिकों को छुट्टी दी जाएगी।

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी दो दिवसीय यात्रा पर रूस पहुंचे हैं। दोनों नेताओं के बीच कई मुद्दों पर आज बातचीत होने वाली है।

रूसी सेना में मौजूद फंसे भारतीयों की होगी छुट्टी
सूत्रों के मुताबिक, पीएम मोदी ने सोमवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ प्राइवेट डिनर पर बातचीत के दौरान ये मुद्दा उठाया था। राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम मोदी की बात को मानते हुए रूसी सेना में फंसे भारतीय युवाओं की वापस स्वदेश भेजने का फैसला किया।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी 4 जुलाई को शंघाई सहयोग संगठन (SCO) शिखर सम्मेलन से पहले अपने रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव के साथ इस मामले को जोरदार ढंग से उठाया था।

भारतीयों को धोखे से युद्ध में किया गया शामिल
यूक्रेन के खिलाफ रूस की ओर से युद्ध में लड़ते हुए कम से कम दो भारतीयों की मौत हो गई है, जबकि युद्ध क्षेत्र में फंसे दर्जनों लोगों का दावा है कि उन्हें धोखे से युद्ध में शामिल होने के लिए मजबूर किया गया। जानकारी के मुताबिक, अभी भी 30 से 40 भारतीय रूसी सेना के साथ काम करने पर मजबूर हैं।

 

Check Also

स्कूल पर इलराइली हवाई हमले में 19 लोगों की मौत

दक्षिणी गाजा में एक स्कूल पर इजराइली हवाई हमले में कम से कम 19 लोगों …