यूपी बोर्ड: अब स्कूलों में खुलेगा डिजिटल ज्ञान का भंडार

मुरादाबाद: यूपी बोर्ड के विद्यालयों में नया सवेरा योजना के अंतर्गत संस्कार, नैतिक शिक्षा, मूल्यों का पाठ पढ़ाया जाएगा। डिजिटल ज्ञान का भी भंडार खुलेगा। डिजिटल लिट्रेसी को बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक बच्चे की ई-मेल आईडी बनवाई जाएगी। इसके व्यावहारिक प्रयोग के बारे में उन्हें सिखाया जाएगा।
सप्ताह में दो दिन शिक्षाधिकारी विद्यालयों की प्रात:कालीन सभा में पहुंचेंगे। वह बच्चों से कॅरिअर, नियमित दिनचर्या, अनुशासन व प्रासंगिक विषयों पर प्रेरक संवाद करेंगे। नई शिक्षा नीति के तहत बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए यूपी बोर्ड ने शैक्षिक कैलेंडर जारी किया है। डीआईओएस डॉ. अरुण कुमार दुबे के अनुसार नए कैलेंडर के अनुसार अब प्रार्थना के दौरान 15 मिनट समय आरक्षित किया गया है।

 

प्रार्थना के दौरान प्रतिदिन प्रासंगिक विषयों पर बच्चों को जानकारी देनी होगी। हैंड्स ऑन एक्टीविटीज एवं एक्सपीरियंस लर्निंग विधा को गणित एवं विज्ञान विषय में लागू करने के लिए सप्ताह में दो दिन निर्धारित किए जाएंगे। हर विद्यालय में लाइब्रेरी अनिवार्य है। बच्चों के विद्यालयों में ई-बुक्स उपलब्ध रहेगी। नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए स्कूल प्लान विकसित किया जाएगा। कॉन्वेंट विद्यालयों की तर्ज पर समर कैंप आयोजित किए जाएंगे। इसमें बच्चों की रुचि के अनुसार उनको गीत, नृत्य, सिलाई, कढ़ाई, लेखन, चित्रकला, रंगोली, नाटक भी सिखाया जाएगा।

 

छात्र-छात्राएं अपनी ईमेल आईडी पर देख सकेंगे यूपी बोर्ड का परिणाम
यूपी बोर्ड हाईस्कूल, इंटरमीडिएट के छात्रों को परिणाम आने का इंतजार है। 25 अप्रैल को रिजल्ट आने की संभावना जताई जा रही है। इसी को लेकर कवायद चल रही है। पिछली बार की तरह ही इस बार भी माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा छात्र- छात्राओं की ई-मेल आईडी पर परिणाम भेजा जाएगा। जिन बच्चों की ई-मेल आईडी नहीं बनी हैं उनका रिजल्ट स्कूल प्रबंधन स्वयं बताएगा। नौ मार्च को यूपी बोर्ड की परीक्षाएं समाप्त होने के बाद 31 मार्च तक कॉपियों का मूल्यांकन किया गया था। अब रिजल्ट जारी करने को लेकर तैयारी कर ली है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का परिणाम 25 अप्रैल को आने की संभावना है। इसी को लेकर स्कूलों और विभाग में तैयारी चल रही है। कि इस बार यूपी बोर्ड की परीक्षा 110 परीक्षा केंद्रों पर कराई गई थी। परीक्षा में हाईस्कूल इंटरमीडिएट के कुल 80,375 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। इनमें हाईस्कूल में 43,453 और इंटरमीडिएट में 36,922 परीक्षार्थी शामिल हुए थे।

 

Check Also

इंस्टाग्राम पर नाम बदल कर किया किशोरी से दोस्ती फिर किया दुष्कर्म

•आरोपित ने अपने साथी दोस्त के साथ मिलकर किशोरी के साथ दुष्कर्म किया और वीडियो …