पश्चिम देश,इजरायल पर ईरान के हमले के बाद भड़के….

Iran Attack On Israel: ईरान ने शनिवार (13 अप्रैल) की देर रात इजरायल पर सीधा हमला करते हुए मिसाइलें दागीं. इसके बाद तनाव बढ़ने का खतरा पैदा हो गया है. इजरायल ने कहा कि ईरान ने 100 से ज्यादा ड्रोन लॉन्च किए. ईरान के इस हमले के बाद पश्चिमी देश भड़क गए हैं. अमेरिका, ब्रिटेन और जर्मनी के साथ-साथ संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी इस हमले की निंदा की है.

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा, “इजरायल के खिलाफ ईरान के हमलों पर अपडेट के लिए मैं अभी अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा टीम से मिला. ईरान और उसके प्रतिनिधियों से खतरों के खिलाफ इजरायल की सुरक्षा के प्रति हमारी प्रतिबद्धता दृढ़ है.” संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने ट्वीट किया, “मैं ईरान द्वारा इजरायल पर बड़े पैमाने पर किए गए हमले से उत्पन्न गंभीर वृद्धि की कड़ी निंदा करता हूं. मैं इन शत्रुताओं को तत्काल समाप्त करने का आह्वान करता हूं. न तो क्षेत्र और न ही दुनिया एक और युद्ध बर्दाश्त कर सकती है.”

ब्रिटेन ने भी दिया इजरायल का साथ

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने एक नोट जारी करते हुए कहा, “मैं इजरायल के खिलाफ ईरानी शासन के लापरवाह हमले की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं. ईरान ने एक बार फिर प्रदर्शित किया है कि वह अपने ही बैकयार्ड में अराजकता बोने पर आमादा है. यूके इजरायल और जॉर्डन और इराक सहित हमारे सभी क्षेत्रीय साझेदारों की सुरक्षा के लिए खड़ा रहेगा. हम अपने सहयोगियों के साथ मिलकर स्थिति को स्थिर करने और आगे बढ़ने से रोकने के लिए काम कर रहे हैं. कोई भी अधिक रक्तपात नहीं देखना चाहता.”

जर्मनी ने दिया इजरायल का साथ

जर्मन चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़ ने ट्वीट किया, ”कल रात ईरान द्वारा इजरायली क्षेत्र पर किया गया हवाई हमला गैर-जिम्मेदाराना है और इसे किसी भी तरह से उचित नहीं ठहराया जा सकता है. ईरान को आग लगने का ख़तरा है. हम इजराइल के पक्ष में खड़े हैं और अब अपने सहयोगियों के साथ आगे की हर बात पर चर्चा करेंगे.”

 

Check Also

रूस ने अमेरिका को क्यों लगाई फटकार…

रूस ने दावा किया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका भारत के संसदीय चुनावों में हस्तक्षेप …