2010 और 2012 में मौलाना तौकीर के भड़काऊ बयान से ही हुआ था दंगा

बरेली: मौलाना तौकीर के भड़काऊ बयान ही बरेली में साल 2010 और 2012 में दंगा हुआ था। उस दौरान जिले का माहौल बिगाड़ने के लिए कोर्ट ने उन्हें जेल भेजा था। अब वह फिर उसी तरह का माहौल बिगाड़ने की कोशिश अपनी भड़काऊ बयानबाजी से कर रहे हैं। यह आरोप भाजपा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष राजेश अग्रवाल ने तौकीर रजा पर लगाए हैं।

उन्होंने कहा कि यदि कहीं का माहौल खराब करवाना हो तो वहां मौलाना तौकीर को भेज दिया जाए। वह अपने बातें मीठे-मीठे शब्दों में कहकर माहौल खराब कर देंगे। उन्होंने कहा कि बदअमनी और नफरत शब्द का प्रयोग करते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपमानित किया है, यह उचित नहीं है।

Check Also

विवाहिता का लटकता मिला शव,हत्या का आरोप…

गोंडा। इटियाथोक थाना क्षेत्र के रमवापुर नायक गांव में मंगलवार की सुबह विवाहिता का शव उसके …