नए साल में होंगे 70 शुभ मुहूर्त….

बाराबंकी। नया वर्ष 2024 कुंवारों के लिए काफी हद तक सार्थक साबित होगा। पूरे साल में सिर्फ दो माह छोड़ बाकी 10 महीनों तक शादियां ही शादियां हैं। पिछले वर्ष की अपेक्षा इस साल 70 शुभ मुहूर्त होंगे। इनमें सबसे अधिक शादियां फरवरी माह में होगी वर्ष 2024 की फरवरी में शादियों के सबसे ज्यादा 17 मुहूर्त हैं। मई और जून में शहनाई नहीं बजेगी। पिछले तीन साल के मुकाबले इस साल सबसे ज्यादा शादियां होंगी।

इस वर्ष कुंवारों के लिए खुशियां लेकर आया है। इस वर्ष पिछले तीन साल के मुकाबले सबसे अधिक शादियां होंगी। हिंदू पंचांग के मुताबिक, 2024 में शुभ मुहूर्त 70 हैं। इनमें सबसे अधिक शादियों के मुहूर्त फरवरी में हैं। जिसमें कुल 17 तारीखें हैं। हालांकि, जनवरी में भी शुभ मुहूर्त 11 हैं, लेकिन शादियों की तादाद कम है। वही सबसे कम नवंबर में सिर्फ छह शुभ मुहूर्त बताए गए हैं।

फरवरी में 17 दिन बैंड-बाजों और शहनाइयों की धूम रहेगी। फरवरी में गुलाबी मौसम होने के कारण 2024 में सर्वाधिक शादियां होंगी। कारोबारियों का अनुमान है कि फरवरी में शहर से लेकर गांव तक रोजाना औसतन एक हजार युगलों के हाथ पीले होंगे। यहां तक की इन दिनों चल रहे खरमास में ही फरवरी तक होने वाली शादियों की तैयारियां घर-घर चल रही हैं। कहीं लड़की की दिखाई तो कहीं बुकिंग आदि की जा रही है। वहीं बीते वर्ष की बात करें तो 2023 में शादियों की कुल शुभ मुहूर्त 64 बताए गए हैं। जबकि इसके पहले 2022 में 69 शुभ मुहूर्त थे। बीते सालों के मुकाबले नए साल में शादियों के सात शुभ मुहूर्त ज्यादा हैं।

ज्योतिष शोध संस्थान के संस्थापक व ज्योतिषाचार्य पं अखिलेश चंद्र शास्त्री ने बताया कि इस साल पिछले कई साल के मुकाबले अधिक शादियां होंगी। इस साल करीब 70 शुभ मुहूर्त हैं। वहीं मई और जून में शुभ मुहूर्त न हाेने से एक भी शादियां नहीं हैं। इसकी वजह बृहस्पति और शुक्र का अस्त होना है। पं.अखिलेश शास्त्री ने बताया कि बृहस्पति व शुक्र गृह के अस्त होने के कारण कोई शुभ मुहूर्त नहीं बना। मगर, जुलाई में कुल नौ शुभ मुहूर्त हैं।

खरमास में हो रही शादी की तैयारी
इन दिनों खरमास चल रहा है। जो 15 जनवरी तक है। इसके बाद भी शादियों का दौर शुरु हाेगा। लेकिन इस बीच जिन घरों में शादियां होनी है। वहां के लोगों द्वारा तैयारियां की जा रही हैं। कोई कपड़ा खरीद रहा है जो कोई ज्वेलरी। कोई बुकिंग कर रहा है तो कोई अन्य तैयारी। यहां तक की इस साल शादी करने के लिए मंदिरों में बेटियों की दिखाई भी की जा रही है। कपड़ा व्यापारी असलम ने बताया कि जनवरी व फरवरी में शादियों के कारण परिवार खरमास में ही कपड़ों की खरीद-फरोख्त करने निकल पड़े हैं। परिवार महंगी साड़ी, लहंगा आदि खरीदकर फिनिशिंग के लिए दे रहे हैं, वह पहले शुभ मुहूर्त में ही कपड़ों की खरीद-फरोख्त की शुरुआत कर चुके हैं। यही हाल ज्वेलरी का है। ज्वेलर्स की दुकान पर भी भीड़ दिख रही है।

शादी के लिए शुभ तारीखें
जनवरी – 16, 17, 18, 20, 21, 22, 27, 28, 29, 30 व 31
फरवरी – 1 ,2, 3, 4, 5, 6, 12, 13, 14, 17, 18, 19, 24, 25, 26, 27 व 29
मार्च – 1, 3, 4, 5, 6, 7, 11 व 12
अप्रैल – 18, 19, 20, 21, 22, 23, 24, 25 व 26
जुलाई – 9, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 16 व 17
नवंबर – 17, 18, 22, 23, 24 व 25
दिसंबर – 2, 3, 4, 5, 9, 10, 11, 13, 14 व 15

 

Check Also

विवाहिता का लटकता मिला शव,हत्या का आरोप…

गोंडा। इटियाथोक थाना क्षेत्र के रमवापुर नायक गांव में मंगलवार की सुबह विवाहिता का शव उसके …