फैक्ट्री में काम करते समय मजदूर की हुई मौत,परिजनों ने फैक्ट्री मालिक पर लगाया हत्या का आरोप

The Blat News, beuro: उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की कोतवाली बन्नादेवी क्षेत्र के गूलर रोड स्थित श्रीजी इंडस्टरीज में एक मजदूर की आग में जिंदा जलकर संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत का मामला सामने आया है। मजदूर की मौत की सूचना पर मौके पर पहुंचे मृतक के परिजनों ने फैक्ट्री मालिक पर अपने मजदूर बेटे को जिंदा जलाकर हत्या का आरोप लगाते हुए कार्रवाई किए जाने की मांग की है। मजदूर की मौत की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव का पंचायत नामा भरकर डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया है। जिसके बाद पुलिस मृतक मजदूर युवक के परिजनों की तहरीर के आधार पर फैक्ट्री मालिक से घटना को लेकर जानकारी करते हुए मामले की जांच में जुटी है।

 



दरअसल पूरा मामला उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के कोतवाली बन्नादेवी क्षेत्र का है। जहां एक मजदूर युवक की फैक्ट्री में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मजदूर युवक की मौत की सूचना पर मौके पर पहुंचे थाना सासनीगेट क्षेत्र के मोहल्ला गंभीरपुरा निवासी रोहित कुमार पुत्र ताराचंद ने बताया कि उसका 24 वर्षीय भाई राहुल थाना बन्नादेवी क्षेत्र के गूलर रोड स्थित रघुवीरपुरी में श्रीजी इंडस्टरीज हार्डवेयर फैक्ट्री में ब्राइटनेस का काम करने के चलते अपने घर से रोजाना की तरह मजदूरी करने के लिए गया था।

बताया जा रहा है कि फैक्ट्री में काम करते वक्त उसका मजदूर भाई आग में झुलस गया। इसके बाद फैक्ट्री मालिक के द्वारा परिवार के लोगों को मजदूर युवक के आग में जिंदा जलने की सूचना दिए बगैर इलाका पुलिस के साथ मिलीभगत कर उसको रामघाट रोड स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कर दिया। इस दौरान मजदूर भाई के फैक्ट्री में आग में जिंदा जलने की सूचना उसके साथ काम करने वाले अन्य मजदूरों के द्वारा घटना के कई घंटे बाद उसके परिवार के लोगों को दी। मजदूर युवक के फैक्ट्री में जिंदा जलने की सूचना मिलते ही परिवार के लोग प्राइवेट अस्पताल पहुंच गए।

जहां उनके पहुंचने से पहले ही आग में जिंदा जले मजदूर युवक की मौत हो चुकी थी। परिजनों का आरोप है कि मजदूर युवक के जिंदा जलने की सूचना मौके पर पहुंचे परिजनों द्वारा 112 नंबर लेपर्ड पुलिस को दी थी। लेकिन उनकी सूचना से पहले ही फैक्ट्री मालिक के उन्हें बिना बताए पुलिस को मौके पर बुला लिया था। बावजूद इसके फैक्ट्री में जिंदा जलकर उसके भाई की हुई मौत के बाद मौके पर पहुंचे परिजनों को उसका चेहरा भी नहीं दिखाया ओर डिग्गी बंद गाड़ी के अंदर शव का पंचनामा भरकर डेड बॉडी को गाड़ी के अंदर रखते हुए पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया।

वही मृतक मजदूर के परिजनों ने फैक्ट्री मालिक पर अपने 24 वर्षीय बेटे राहुल को जिंदा जलाते हुए उसकी हत्या किए जाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई किए जाने की मांग की है। तो वही मजदूर की हुई दर्दनाक मौत के बाद परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल करते हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई को आगे बढ़ाएगी।

Check Also

किसानों के साथ सभी मुद्दों पर बात करने को तैयार सरकार: अर्जुन मुंडा

नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा है कि केंद्र सरकार …