होश में हुए तो पुलिस के चक्कर लगाने लगे,अंत में कोर्ट ने दर्ज़ किया मुकदमा

कानपुर, संवाददाता। कानपुर में एक मामला प्रकाश में आया हैं जहां नौबस्ता थानाक्षेत्र के यशोदा नगर के राजीव नगर निवासी आशीष यादव पहले वह कुवैत में धोबी का काम करते थे। 2018 में उसकी भीतरगांव निवासी रेखा से शादी होने के बाद से वह कानपुर ही रहने लगे। आशीष का आरोप है कि पत्नी का व्यवहार उनके व माता-पिता के प्रति अच्छा नहीं था। 29 जून 2021 को रेखा ने अपने पिता हरीलाल, भाई अशोक और विकास कुमार और दो अज्ञात को घर बुलाकर शराब पिलवाई। इस दौरान पत्नी के भाइयों ने जबरन आशीष के माता-पिता से मकान हड़पने के लिए स्टांप पेपरों में हस्ताक्षर कराने प्रयास किया।

मना करने पर आशीष के मुंह में शराब डाली और घसीटते हुए तीसरी मंजिल पर ले जाकर नीचे फेंक दिया, जिससे उसकी रीढ़ व कूल्हे की हड्डी टूट गई। कई दिनों तक बेहोश रहने के बाद जब होश में हुए तो पुलिस के चक्कर लगाने लगे। अंत में कोर्ट में गुहार लगाने पर मंगलवार को केस दर्ज हो गया।

Check Also

भारत सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की शक्तिपीठ है: मुख्तार अब्बास नकवी

मथुरा। पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने बुधवार …