बाइडन के राष्ट्रपति बनने के बाद व्हाइट हाउस सूचनाओं के प्रसार में बरत रहा अनुशासन

 

वाशिंगटन। पिछले चार दशकों में अमेरिका में जो बाइडन ऐसे पहले राष्ट्रपति हैं जिन्होंने कार्यकाल के शुरुआती दिनों में औपचारिक तौर पर कोई संवाददाता सम्मेलन नहीं किया, ना ही ओवल ऑफिस से संबोधित किया। उन्होंने अब तक संसद के संयुक्त सत्र को भी संबोधित नहीं किया है। पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन की तुलना में संदेश जारी करने को लेकर व्हाइट हाउस काफी अनुशासित रूख अपना रहा है और अधिकारियों को भी सावधानी से बोलने को कहा गया है।

टोसोन विश्वविद्यालय में प्रोफेसर मार्था कुमार के एक अध्ययन के मुताबिक पूर्व में राष्ट्रपति अपने कार्यकाल के शुरुआती दिनों में ज्यादा संवाददाता सम्मेलन करते थे। कार्यकाल के इतने दिनों में ट्रंप और जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश ने पांच पांच बार संवाददाता सम्मेलन किए थे जबकि बराक ओबामा ने दो बार और रोनाल्ड रीगन ने एक बार संवाददाताओं के सवालों के जवाब दिए थे।

इस दौरान बाइडन ने पांच साक्षात्कार दिए हैं जबकि रीगन ने नौ और ओबामा ने 23 साक्षात्कार दिए थे। कुमार ने कहा, ‘‘बाइडन पूरी योजना के साथ आए हैं कि कितनी सूचनाएं वे जारी करना चाहते हैं।’’

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने इस तरह की धारणा का बचाव किया कि राष्ट्रपति बाइडन मीडिया के सामने कम आ रहे हैं। हालांकि, उन्होंने संकेत दिया कि मार्च के अंत तक वह संवाददाता सम्मेलन करेंगे।

संसद के संयुक्त सत्र को भी बाइडन संभवत: मार्च के अंत तक संबोधित करेंगे। वह किस माध्यम से संबोधित करेंगे इस बारे में अभी पता नहीं चल पाया है।

इससे पहले शपथ ग्रहण समारोह और कोरोना वायरस महामारी के कारण अमेरिका में मृतकों की संख्या 5,00,000 होने पर बाइडन ने देश को संबोधित किया था।

Check Also

अयोध्या जैसा सजा कानपुर हर तरफ़ जय श्रीराम-जय श्रीराम की जय घोष

kanpur / Rishabh Tiwari: रामनवमी को लेकर शहर में अयोध्या जैसा माहौल रहा है। फिर …