पटना: बाबा बैद्यनाथ धाम सहित सभी शिवालयों में लगा भक्तों का तांता

द ब्लाट न्यूज़ सावन के महीने में सभी शिवालयों में भक्तों की भीड़ देखी जाती है लेकिन सावन महीने की पहली सोमवारी के मौके पर आज भगवान शिव के मंदिर में भक्तों का सुबह से ही तांता लगा हुआ है। सोमवार के मौके पर मंदिर परिसरों को आकर्षक ढ़ंग से सजाया गया है। झारखंड के देवघर स्थित बैद्यनाथ धाम और वासुकीनाथधाम मंदिर के रास्ते कावड़ियों के बोलबम के नारे से गूंज रहे हैं। सुल्तानगंज से उतरवाहिनी गंगा का पवित्र जल उठाकर 105 किलोमीटर लंबी पैदल यात्रा कर कांवडिये बैद्यनाथ धाम पहुंचकर कामना लिंग पर जलाभिषेक करते हैं।

सुबह चार बजे की विशेष पूजा के बाद से ही यहां भक्तों द्वारा जलाभिषेक प्रारंभ हुआ जो बदस्तूर जारी है। बैद्यनाथ धाम में कांवड़ियों की मुख्य मंदिर से पूर्व करीब चार किलोमीटर लंबी कतार लगी हुई है।  मेला क्षेत्र में सुरक्षा की कमान संभाल रहे पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सावन महीने की पहली सोमवारी को एक लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना है। मंदिर का पट रात को श्रृंगार पूजा के बाद बंद कर दिया जाएगा। वासुकीनाथ मंदिर में भी बाबा के भक्तों का आना जारी है। यहां भी सुबह से ही भक्तों की लंबी कतार लगी हुई है।

बिहार की राजधानी पटना के बैकुंठपुर मंदिर, गायघाट के गौरीशंकर मंदिर, पटना सिटी के तिलेश्वर महादेव मंदिर, अलखिया बाबा मंदिर में भी सुबह से ही भक्तों का तांता लगा हुआ है।  इसके अलावे बिहार के भी मुजफ्फरपुर के बाबा गरीबनाथ मंदिर, मोतिहारी के सोमेश्वर मंदिर, रोहतास के गुप्ताधाम मंदिर, सोनपुर के हरिहरनाथ मंदिर सहित सभी शिवालयों में सुबह से ही भीड़ उमड़ रही है। मुजफ्फरपुर बाबा गरीबनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी है। विभिन्न जगहों से हजारों कांवड़िए अपनी अपनी मुरादे लेकर बाबा गरीबनाथ दरबार पहुंचकर जलाभिषेक कर रहे हैं।

प्रशासन की तरफ से भी मुज़फ़्फ़रपुर के साथ-साथ कई जिलों के पुलिस बल और पदाधिकारियों को ड्यूटी में तैनात किया गया है।

Check Also

बिहार के छह जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से नौ की मौत

पटना। बिहार में पिछले 24 घंटे में आकाशीय बिजली से जहानाबाद में 03, मधेपुरा में …