अलीगढ़: 30 मिनट की बारिश में शहर के कई हिस्से जलमग्न, घरों में घुसा पानी

(रिपोर्टर) अजय कुमार

द ब्लाट न्यूज़ उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में हुई 30 मिनट की मूसलाधार बारिश ने स्मार्ट सिटी की पोल खोल कर रख दी। स्मार्ट सिटी में हुई बारिश के चलते ईदगाह शाह जमाल रोड सहित शहर के कई इलाके नालों में जमा गंदगी के चलते पानी की निकासी ना होने के कारण जलमग्न हो गए।जिसके चलते लोगों के घरों में घुसे पानी से टीवी फ्रीज कूलर समेत खाने पीने का सभी सामान बारिश के पानी में डूब गए। वहीं लोगों का कहना है कि स्मार्ट सिटी में 30 मिनट हुई बारिश ने लोगों का जनजीवन पूरी तरह से ठप कर दिया है। सड़कों पर इकट्ठा हुए बारिश के पानी से लोगों का अपने घरों से निकलना दूभर हो गया है। वहीं स्थानीय लोगों की माने तो उनका कहना है कि पिछले 2 दिन से सड़कों पर भरा बारिश का पानी निकल नहीं रहा है। जिससे लोगों के घरों में पीने का पानी भी गंदा पहुंच रहा है। जिस कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। लोगों की मांग है कि सड़कों पर भरे पानी से निजात दिलाते हुए जल्द से जल्द लोगों की परेशानियों को दूर किया जाए।

आपको बता दें कि अलीगढ़ स्मार्ट सिटी शहर के एलडीए कॉलोनी ईदगाह शाहजमाल समेत कई मोहल्लों में 30 मिनट की बारिश से सड़कें जलमग्न हो गईं। जिससे लोगों के घरों में बारिश का पानी घुस गया। जिसके चलते टीवी फ्रिज सहित सभी सामान बारिश के पानी में डूब गया। जिससे लोगों की जिंदगी ठहर सी गई। वही रामघाट रोड पर मीनाक्षी पुल से लेकर किशनपुर तिराहा तक सड़कों पर इकट्ठा हुए बारिश के पानी ने नगर निगम को चिढ़ाना शुरु कर दिया। वही आधा घंटे की बारिश ने शहर की नई सरकार के लिए मुश्किलें बढ़ा दी है।क्योंकि भाजपा मेयर ने अपनी जीत सुनिश्चित होते ही शहर के लोगों को जलभराव की समस्या से निजात दिलाने का वादा किया गया था। वही नए महापौर से लोगों को बारिश में जलभराव न होने या कम होने की थोड़ी बहुत उम्मीदे हैं, पर स्थिति विगत वर्षों की भांति जस की तस नजर आ रही है। वही बारिश होने से शहर के कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति भी रोकी गई है। बारिश बंद होने के बाद उस विद्युत आपूर्ति को चालू किया जाएगा।वही धीरे-धीरे शहर में बारिश से प्रभाव की तस्वीरें भी निकलकर सामने आएंगी।

वही एडीए कॉलोनी निवासी फैजल का कहना है कि स्मार्ट सिटी में 30 मिनट बारिश हुई और इस 30 मिनट की बारिश से एडीए कालोनी,ईदगाह रोड, शाहजमाल सहित कई इलाके सड़कों के किनारे बने नालों में जमा गंदगी की वजह से जल निकासी ना होने के चलते बारिश का पानी सड़कों पर भरते हुए लोगों के घरों में घुस गया और इससे लोगों को काफी परेशानियां शुरू हो गई। इसके साथ ही उसका कहना है कि विगत वर्षों की तरह इस बार भी इलाके की समस्याएं जस की तस बनी हुई है। आरोप है कि लोगों की समस्याओं का समाधान करने की वजह अधिकारियों के द्वारा उनकी समस्याओं को नजरअंदाज किया जाता है। इसी का नतीजा है कि 30 मिनट की बारिश में अधिकारियों और सरकार की पोल खोल दी है। कि 30 मिनट बारिश होती है और उसके बाद 2 दिन तक सड़कों पर जलभराव बना रहता है। वही बारिश का पानी लोगों के घरों में घुस गया जिसके चलते लोगों के घरों में रखे टीवी फ्रीज कूलर खाने पीने का सामान समेत कई कीमती सामान बारिश के पानी में डूब कर खराब हो गए। जिसके चलते इलाके के लोग परेशान होते हुए परेशानियों से जूझ रहे हैं। वही फैजल का कहना है कि सड़कों पर 2 दिन के इकट्ठा बारिश के पानी के चलते लोगों के घरों में पीने का पानी भी गंदा और बदबूदार पहुंच रहा है। जिस गंदे पानी को इस स्मार्ट सिटी के लोग पीने को मजबूर है। उनका कहना है कि अधिकारियों के द्वारा इलाके के लोगों की समस्याओं की अनदेखी की जाती है ऐसे में उनकी मांग है कि उनकी समस्याओं को अधिकारियों के द्वारा जल्द से जल्द सुनते हुए उनकी इन सभी समस्याओं से क्षेत्रीय लोगों को निजात दिलाया जाए।

वही स्थानीय निवासी डॉ सैफ अली का कहना है कि जब से नगर निगम के द्वारा खैर रोड का पानी शाहजमाल की तरफ काटा गया है। तभी से लोगों की समस्याएं बढ़ गई है। अब समस्या का आलम यह है कि 30 मिनट बारिश होने के बाद ही शाहजमाल इलाके में करीब ढाई ढाई फुट पानी इकट्ठा हो जाता है। इलाके में ढाई ढाई फुट बारिश का पानी इकट्ठा होने लोगों के कारोबार चौपट हो गए, इसके साथ ही बच्चों को भी स्कूल जाने में काफी परेशानी हो रही है। ऐसे में उनकी मांग है कि क्षेत्र के करीब 40 स्कूल बारिश के पानी से प्रभावित है। नगर निगम के द्वारा जल्द से जल्द जल निकासी की समस्या को दूर करते हुए इलाके के लोगों को उनकी समस्याओं से निजात दिलाया जाए।

Check Also

दोस्त ने परिवार के साथ मिल अपने ही दोस्त की पीट-पीटकर की हत्या,वीडियो वायरल

• शराब के नशे में दो दोस्तों के बीच हुआ झगड़ा,फिर शराबी दोस्त ने परिवार …