पुलिस को देखते ही कोर्ट के अंदर भागे इमरान खान के करीबी फवाद चौधरी

THE BLAT NEWS:
इस्लामाबाद। पाकिस्तान में इस्लामाबाद हाई कोर्ट के बाहर मंगलवार को नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिला। पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के नेता फवाद चौधरी अपनी रिहाई के बाद अदालत परिसर के अंदर भागते नजर आए। दरअसल, जैसे ही एचसी ने पीटीआई नेता की रिहाई का आदेश दिया, वह कोर्ट परिसर से बाहर आए। फवाद चौधरी अपनी सफेद एसयूवी में बैठ तो गए, मगर इसी बीच उनकी नजर अदालत के बाहर तैनात पुलिस टीम पर पड़ी। यह देखते ही उन्होंने जल्दी से कार का दरवाजा खोला और दोड़कर कोर्ट के अंदर घुस गए।
पाकिस्तान में प्रधानमंत्री इमरान खान की सिफारिश पर राष्ट्रपति ने नेशनल ...
पुलिस कोर्ट के बाहर चौधरी को एक अन्य मामले में गिरफ्तार करने पहुंची थी। इसके कुछ ही समय बाद पीटीआई की ओर से ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया गया। इसमें फवाद चौधरी को वकीलों के साथ एचसी के अंदर जाते हुए देखा जा सकता है। फवाद को पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के अन्य नेताओं के साथ आगजनी और हिंसक विरोध प्रदर्शन के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के अनुसार, इन पर आरोप है कि इन्होंने सोची-समझी रणनीति के तहत शांति को खतरे में डालने का काम किया। इस्लामाबाद हाईकोर्ट के बाहर पाकिस्तानी रेंजरों की ओर से इमरान खान की गिरफ्तारी के बाद विरोध-प्रदर्शन के दौरान यह हिंसा हुई थी।
इमरान खान की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित;
दूसरी ओर, लाहौर हाई कोर्ट ने जमानत की अपील वाली इमरान खान की याचिका पर मंगलवार को फैसला सुरक्षित रख लिया। पिछले सप्ताह इमरान की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थकों की ओर से कई गई हिंसा के मामले में उनके खिलाफ दर्ज मामलों के खिलाफ याचिका दायर की गई है। खान ने शनिवार को याचिका दायर की थी। एक दिन पहले उन्हें इस्लामाबाद एचसी से जमानत पर रिहा किया गया था। पंजाब की अंतरिम सरकार का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील ने जमानत याचिका का विरोध किया और कहा कि इसे मंजूरी नहीं दी जानी चाहिए। खान शुक्रवार को जमानत मिलने के बावजूद गिरफ्तारी के डर से घंटों कोर्ट परिसर से बाहर नहीं निकले थे, हालांकि बाद में वह शनिवार को अपने लाहौर स्थित घर लौट आए।

Check Also

तीन राज्यों में भ्रष्टाचार के खिलाफ आयकर विभाग और ED ने की ताबड़तोड़ छापेमारी…

नई दिल्ली:-  आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आज भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा एक्शन …