नवरात्र: दर्शन के लिये मंदिरो की सुरक्षा के लिये पुलिस तैयार

कानपुर, संवाददाता। आज से चैत्र नवरात्र व भारतीय नवसंवत्सर की शुरुआत होने जा रही है। इस दौरान जहां मंदिरों को भक्तों के लिये तैयार किया जा रहा है तो दूसरी तरफ कमिश्नरेट पुलिस भी भक्तों की सुरक्षा और भीड़ प्रबंधन के लिये तैयार है। शहर के सभी मंदिरों में भीड़ के हिसाब से कमिश्नरेट पुलिस द्वारा अलग-अलग व्यवस्था की गई हैं।

पुलिस अधिकारियों ने प्रमुख तो थाना प्रभारियों द्वारा सभी मंदिरों का निरीक्षण कर संबधित जोन की पुलिस ने पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम किये हैं। प्रमुख मंदिरों के लिये पुलिस ने अलग से रणनीति तैयार की है। खाकी में पुलिस के जवानों के साथ ही सादे कपड़ों में भी पुलिस को तैनात किया गया है ताकि कोई भी शातिर अपने नापाक मंसूबों में कामयाब न हो पाए। पुलिस आयुक्त बीपी जोगदण्ड द्वारा पूरे आयोजन की तैयारियों के संबध में चारों जोनों की अलग-अलग समीक्षा भी की गई। चारों जोन में स्थित मंदिरों के लिये थानों के पुलिस बल के अतिरिक्त पुलिस बल व पीएसी की कंपनियों को भी तैनात किया गया है। संयुक्त पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी ने सभी मंदिरों में जहां ज्यादा भीड़ होती हैं वहां के सीसीटीवी कैमरों को दुरूस्त करने और सभी का प्रयोग करके पूरे परिसर की निगरानी करने को कहा है।

   इन स्थलों पर यह व्यवस्था 
• मंदिरों के आस-पास साफ-सफाई कराते हुये स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाये। महत्वपूर्ण मेला स्थलों पर बड़े तथा प्रसिद्ध मंदिरों पर भीड़ नियंत्रण हेतु व्यवस्थायें की जायें।
• मुख्य द्वार पर प्रवेश नियंत्रण और एण्टी सेबोटॉज चेकिंग की व्यवस्था की जाये।
• भगदड़ से बचने के लिए प्रवेश और निकास मार्गों की अलग-अलग व्यवस्था की जाये।
• मंदिर व्यवस्थापकों से उचित समन्वय रखते हुए उन्हें विश्वास में लेकर सुरक्षा व्यवस्थायें सुनिश्चित की जायें।
• श्रद्धालुओं के सुगम आवागमन के दृष्टिगत कतारों की व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने हेतु समुचित बैरीकेडिंग मंदिर व्यवस्थापकों के सहयोग से करा ली जाये।
• प्रकाश की समुचित एवं पर्याप्त व्यवस्था की जाये।
• जहाँ-जहाँ श्रद्धालुओं द्वारा नदी,जलाशयों में स्नान किये जाते हैं, वहाँ घाटों पर फिसलन रोकने के लिए समुचित प्रबन्ध किये जायें। आवश्यकतानुसार नावों एवं गोताखोरों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये।
• वाहनों की पार्किंग हेतु उपयुक्त स्थान की व्यवस्था की जाये।
• भारी भीड़ वाले स्थानों पर आपात चिकित्सा हेतु चिकित्सीय टीम की व्यवस्था की जाये। नागरिक सुविधायें: जैसे विद्युत, पेयजल और स्वच्छता बनाये रखने हेतु संबंधित विभागों एवं मंदिर,मेले के व्यवस्थापकों से समन्वय स्थापित करते हुये व्यवस्थायें सुनिश्चित की जायें।
• ऐसे स्थलों पर अग्निशमन यन्त्रों का अधिष्ठापन एवं अग्निशमन वाहनों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये।
• महिलाओं सम्बन्धी अपराध यथा-छेड़खानी,छीटाकशी, पॉकेटमारी, चैन स्नैचिंग,लूट की घटनाएं रोकने के लिए काइम ब्रांच व महिला पुलिस की संयुक्त टीम लगाई जाए। महिलाओं से छेड़खानी कभी -कभी साम्प्रदायिक रूप ले लेती है। इस ओर विशेष ध्यान दिया जाये।
• यथा आवश्यक सीसीटीवी कैमरों एवं वीडियोग्राफी टीम की व्यवस्था की जाये।
• जुलूसों के साथ पर्याप्त पुलिस बल का व्यवस्थापन किया जाये, विशेषकर जुलूस के उन मार्गों पर जिन पर दूसरे सम्प्रदाय के लोगों के धार्मिक स्थल स्थित हैं। उत्तेजनात्मक नारेबाजी न की जाये।
नवरात्रि पर दक्षिण जोन की तैयारी
1. कुल मन्दिर -22
2. नवरात्रि के अवसर पर जुलूस-47
3. मेला बारा देवी – 01
4. प्रमुख मन्दिर बारा देवी मन्दिर-01 थाना क्षेत्र जूही एवं किदवई नगर
5. बारादेवी मन्दिर पर अनुमानित भीड़ – 2 से 3 लाख व्यक्ति प्रतिदिन
6. पार्किंग व्यवस्था-सभी भक्तगणों के वाहन रामलीला मैदान थाना जूही के सामने पार्क हो सकेंगे। गौशाला से ज्योति हाईटस् अपार्टमेन्ट तक रोड के दोनो तरफ वाहन को पार्क कर सकेंगे,बारादेवी चौराहा से पापुलर र्धमकॉटा तक रोड के दोनों तरफ दो पहिया वाहन पार्क हो सकेंगे।

नवरात्रि पर पूर्वी जोन में तैयारी
1. कुल मन्दिर -71
2. नवरात्रि के अवसर पर जुलूस -35
3. मेला तपेश्वरी देवी मन्दिर थाना फीलखाना -01
4. प्रमुख मन्दिर -01 तपेश्वरी मन्दिर थाना फीलखाना अनुमानित भीड़ लगभग 3000 व्यक्ति प्रतिदिन ।
5.पार्किंग व्यवस्था -फूलबाग में पार्किंग की व्यवस्था है।

नवरात्रि  पर जोन पश्चिम में
1- कुल देवी मन्दिर – 81
2- कुल जूलूस- 34
3- मेला- जोन पश्चिम में किसी प्रकार के मेले का आयोजन नहीं होता है। केवल थाना क्षेत्र काकादेव में काली मठिया पर भीड़ रहती है।
4- पार्किंग व्यवस्था- सेन्ट्रल पार्क शास्त्री नगर- जो श्रद्दालु काली
मठिया पर दर्शन करने जायेगे वह अपने वाहनों को वहां पार्क करेंगें।

नवरात्रि के अवसर पर सेंट्रल जोन में 
1-कुल मंदिर -59
2-कुल जुलूस -47
3-मेला-जोन सेन्ट्रल में किसी भी प्रकार के मेले का आयोजन नही होता है

Check Also

Kanpur: सब्जी विक्रेता आत्महत्या मामले पर मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, गिरफ्तारी के दिए निर्देश

•चकरपुर मंडी चौकी प्रभारी सत्येंद्र कुमार यादव व सिपाही अजय यादव मृतक सुनील से वसूली …