भारत जोड़ो आंदोलन : राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक, घेरा तोड़कर राहुल को लगाया; सुरक्षा कर्मियों ने पीछे हटाया।

THE BLAT NEWS:

‘राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मंगलवार को होशियारपुर से शुरू हुई। इस दौरान राहुल की सुरक्षा मे चूक दिखी। एक व्यक्ति सुरक्षा घेरा तोड़कर राहुल के गले लग गया। बाद में सुरक्षा कर्मियों ने उसे पीछे हटाया।’ 

 

 

Image result for Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक, घेरा तोड़ कांग्रेस नेता के गले लगा युवक

 

                                                                                   ‘THE BLAT NEWS’ FILE PHOTO:भारत जोड़ो आंदोलन यात्रा
सोमवार को भारत जोड़ो यात्रा के पंजाब में पांच दिन बीतने के बाद राहुल गांधी ने सोमवार को मुख्यमंत्री मान को निशाने पर लिया था। राहुल ने कहा कि सीएम मान को दिल्ली में बैठे अरविंद केजरीवाल का रिमोट कंट्रोल नहीं बनना चाहिए। उन्हें स्वतंत्र रूप से राज्य को चलाना चाहिए।

उन्होंने कहा, हमने पंजाब में जितनी बार कांग्रेस की सरकार बनाई, वह पंजाब से ही चली। हिंदुस्तान के हर प्रदेश का अपना इतिहास, भाषा और जीने का तरीका होता है। मैं पंजाब के सीएम भगवंत मान से कहना चाहता हूं कि आप पंजाब के मुख्यमंत्री हैं, पंजाब को पंजाब से ही चलाना चाहिए। मान को अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के दबाव में नहीं आना चाहिए। यह पंजाब के सम्मान की बात है। किसानों-मजदूरों की बात सुनकर खुद फैसले लेने चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमारी बात लोकसभा व राज्यसभा में नहीं सुनी जाती, जब बोलने का मौका आता है तो माइक ऑफ कर दिया जाता है, इसलिए यह यात्रा शुरू करनी पड़ी। किसान आंदोलन में शहीद 700 किसानों की याद में संसद में दो मिनट का मौन रखने का प्रस्ताव रखा तो केंद्र सरकार ने कहा कि किसान शहीद नहीं थे।
केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान में जो व्यक्ति पसीना बहाता है वह तपस्वी है। देश में तपस्वी लोगों पर ही हमले हो रहे हैं। किसानों का कर्जा माफ नहीं हो रहा है। सिर्फ तीन चार बड़े घरानों का करोड़ों रुपये का कर्ज माफ कर दिया जाता है। किसान आंदोलन में 700 किसान शहीद हुए। एक साल तक किसान सड़कों पर बैठे रहे और पीएम मोदी ने एक मिनट भी किसानों से बात नहीं की। अगर डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार होती तो वह खुद किसानों की बात सुनने मौके पर पहुंच जाते।

Check Also

योगी ने रचा इतिहास तो सपा-रालोद की जगी आस, चर्चा में आई ‘आप’

द ब्लाट न्यूज़ वर्ष 2022 ने राजनीतिक तौर पर बहुत कुछ दिखाया। काफी कुछ समझाया। नेताओं …