नगर निगम में अधिकारी पड़े सुस्त, नहीं किसी को शहर की सुध

Author : Rishabh Tiwari


कानपुर। कानपुर नगर निगम का यूं तो शहर को साफ सुथरा और बीमारियों से शहर वासियों को बचाने का जिम्मा है साथ ही साथ शहर के सुंदरीकरण का भी जिम्मा है लेकिन नगर निगम के काम न करने वाले कर्मचारियों का क्या कहना ऐसा ही कुछ कानपुर की सड़कों पर लगी रोड लाइटों का हाल है जहां पर कहीं रात में जलती हैं तो कहीं रात में अंधेरा भी रहता है तो कहीं दिन में जलती है तो बंद करना भूल जाते हैं आखिर इस प्रकार के लापरवाह कर्मचारियों पर नगर आयुक्त का ध्यान क्यों नहीं जाता।

 

 

वही जब नगर आयुक्त के पास कानपुर नगर निगम का जिम्मा है तो क्या कार्यालय से ही जिम्मा पूरा होगा। आखिर 3 माह से बंद पड़ी गोल चौराहा से कोका कोला चौराहा तक की रोड लाइटों पर उनका कब ध्यान जाएगा।

 

 

वहीं दूसरी ओर 2 माह से अफीम कोठी से झकरकटी बस अड्डे तक रोड लाइटें दिन में भी जला करती हैं। और जिम्मेदारों को दिन में जलती रोड लाइट नहीं दिखती।

Check Also

ट्रैक्टर ने बाइक सवारों को रौंदा,हालत गंभीर…

अलीगढ़, संवाददाता। थाना बरला क्षेत्र के बरला चौराहे पर तेज रफ्तार ट्रैक्टर ट्रॉली का कहर …