जागेश्वर वर्मा हत्या कांड के खुलासे से संतुष्ट नहीं है मृतक का बेटा

 

रिपोर्ट:शिवकेशशुक्ला:सोहराबखान
अमेठी : पूर्व प्रधान जागेश्वर वर्मा की हत्या का खुलासा करते हुए थाना मोहनगंज पुलिस द्वारा हत्या घटना में प्रयुक्त 01 देशी तमंचा व 01 कारतूस 315 बोर के साथ प्रकाश में आये 02 नफर अभियुक्त गिरफ्तार को गिरफ्तार किया लेकिन पुलिस के इस खुलासे से मृतक का बेटा राम मिलन संतुष्ट नहीं है।
उसका कहना है कि हत्या में 3 लोग कृष्ण कुमार पासी, दल रंजन सिंह व ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह का नाम शामिल था। उसने कहा कि हमे खुलासे के बारे में कल 1 बजकर 40 मिनट पर पता चला है। मैं व मेरा परिवार इस खुलासे से कतई संतुष्ट नहीं है।
आपको बता दें कि रमई गांव निवासी पूर्व प्रधान जागेश्वर वर्मा की 24 जनवरी की रात गोली मारकर हत्या कर दी गई थी जिसमे मृतक के बेटे ने प्रधानपति समेत उसके भाई व पिता की नामजद किया था। हालांकि पुलिस की विवेचना के दौरान नामजद अभियुक्तों के घटना में शामिल होने के प्रमाण नहीं मिल पाए थे जिसमे पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। गौरतलब बात ये रही कि घटना वाली रात काफी घना कोहरा था और ओस पानी की तरह से टपक रहा था फिर भी नहर के पास मिला शव बिलकुल ही भीगा नहीं था । पूर्व प्रधान का शव खुले आसमान के नीचे पाया गया था। पुलिस की विवेचना में 2 अभियुक्तों का ही नाम प्रकाश में आया जिन्हे पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
मृतक जागेश्वर वर्मा के बेटे ने कहा कि नियमानुसार उच्चाधिकारियों से शिकायत करूंगा।

Check Also

मथुरा:-टटलू हुए हाईटेक तो मेवात में गहरी हुईं साइबर क्राइम की जड़ें

THE BLAT NEWS:) अंतरराज्यीय सीमा से सटे मेवात क्षेत्रों के गांवों में वर्षों तक सक्रिय …