सिटसिपास ने मेदवेदेव को हराया, सेमीफाइनल में जेवरेव से भिड़ेंगे

पेरिस । स्टेफनोस सिटसिपास और अलेक्सांद्र जेवरेव ने सीधे सेटों में जीत दर्ज करके फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के पुरुष एकल के सेमीफाइनल में जगह बनायी जहां ये दोनों एक दूसरे के आमने सामने होंगे।

इन दोनों को भविष्य का स्टार माना जाता है। राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच के बीच 2008 के सेमीफाइनल के बाद यह पहला अवसर है जबकि रोलां गैरां पर अंतिम चार में दो युवा खिलाड़ी एक दूसरे का सामना करेंगे।

पांचवी वरीयता प्राप्त सिटसिपास ने दूसरे वरीय डेनिल मेदवेदेव को 6-3, 7-6 (3), 7-5 से हराकर चौथी बार किसी ग्रैंडस्लैम के सेमीफाइनल में प्रवेश किया। उन्हें केवल दूसरे सेट में संघर्ष करना पड़ा जब​ 5-4 के स्कोर पर मेदवेदेव दो सेट प्वाइंट का फायदा नहीं उठा पाये थे।

पिछले साल यूएस ओपन के फाइनल में जगह बनाने वाले जेवरेव ने 46वी रैंकिंग के अलेजांद्रो डेविडोविच फोकिना को 6-4, 6-1, 6-1 से पराजित किया। यह तीसरा अवसर है जबकि जेवरेव ग्रैंडस्लैम सेमीफाइनल में पहुंचे हैं।

यूनान के सिटसिपास 22 वर्ष के जबकि जर्मनी के जेवरेव 24 वर्ष के हैं। इन दोनों ने इस साल लाल बजरी पर मास्टर्स 1000 खिताब जीता था।

पुरुष वर्ग के दो अन्य क्वार्टर फाइनल जोकोविच और मैटियो बेरेटिनी तथा 13 बार के चैंपियन नडाल और डिएगो श्वार्जमैन के बीच खेले जाएंगे।

महिला वर्ग में रूस की 31वीं वरीय एनस्तेसिया पावलिचेनकोवा और स्लोवानिया की 85वी रैंकिंग की तमारा जिदानसेक ने पहली बार ग्रैंडस्लैम सेमीफाइनल में जगह बनायी।

पावलिचेनकोवा इससे पहले छह बार ग्रैंडस्लैम क्वार्टर फाइनल में हारी थी लेकिन मंगलवार को वह युगल में अपनी जोड़ीदार इलेना रिबाकिना को एक संघर्षपूर्ण मुकाबले में 6-7 (2), 6-2, 9-7 से हराने में सफल रही। जिदानसेक ने 33वीं रैंकिंग की पाउल बाडोसा को 7-5, 4-6, 8-6 से हराया।

Check Also

उठाना चाहते हैं भारत-श्रीलंका के बीच दूसरे टी20 मुकाबले का मजा, तो अपनाएं ये तरीका

नई दिल्ली,  भारत और श्रीलंका के बीच खेली जा रही तीन मैचों की टी20 सीरीज …