विधायक की बढ़ेंगी मुश्किलें, गिरफ्तारी की मांग

गंगानगर में अधिवक्ता ओमकार सिंह तोमर की आत्महत्या से जुड़ा पूरा घटनाक्रम सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गया है। घर में ही लगे सीसीटीवी कैमरों की मंगलवार को पड़ताल हुई तो वीडियो सामने आई। पुलिस ने वीडियो और डीवीआर को सुरक्षित कराया है। साथ ही इसे जांच के लिए भी भेजा जा रहा है।

घर में सीढ़ियों पर बैठे ओमकार सिंह 13 फरवरी सुबह 10:14 बजे फांसी का फंदा बनाना शुरू करते नजर आ रहे हैं। तीन मिनट में फंदा तैयार करने के बाद वह फांसी लगाकर झूल गए। सुबह करीब 10:58 मिनट पर पड़ोस के ही कल्लू घर पर पहुंचे और उन्हें आत्महत्या की जानकारी हुई। इसके बाद पुलिस और परिजनों को सूचना दी गई। घटना के समय ओमकार सिंह तोमर घर पर अकेले थे और परिजन बाहर गए हुए थे। पुलिस ने इस वीडियो को सुरक्षित कर लिया है।

यह है मामला
गंगानगर के ईशापुरम कॉलोनी निवासी अधिवक्ता ओमकार सिंह तोमर के बेटे लव तोमर और पुत्रवधू स्वाति का आपस में विवाद चल रहा था। स्वाति ने दहेज और कातिलाना हमले का मुकदमा ससुराल पक्ष के खिलाफ खतौली में दर्ज कराया था। आरोप है कि मामले में समझौते के लिए हस्तिनापुर विधायक दिनेश खटीक के रजपुरा फार्म पर बैठक हुई। यहां 15 लाख रुपये ओमकार सिंह तोमर को देने के लिए कहा गया। इसके बाद 13 फरवरी की सुबह ओमकार सिंह ने फांसी लगाकर जान दे दी।

ईशापुरम स्थित अधिवक्ता के घर पहुंची पुलिस ने परिजनों व स्थानीय लोगों की मौजूदगी में मामले से जुड़े घटनाक्रमों की सीसीटीवी फुटेज देखी। फुटेज में निडावली गांव का निवर्तमान प्रधान मुनेंद्र और उसका साथी अधिवक्ता ओमकार से बातचीत करते दिखाई दे रहे हैं।

सीसीटीवी फुटेज में बीती 12 तारीख को लगभग बारह बजे के करीब मुनेंद्र व उसका एक अन्य साथी वैगनार कार में आता दिख रहा है। कार से उतरने के बाद दोनों अधिवक्ता के घर में घुसते हैं। इसके बाद दोनों पक्षों में घर के अंदर बातचीत होती है। अंदर बातचीत खत्म होने के बाद घर के बाहर भी अधिवक्ता ओमकार व मुनेंद्र के बीच बातचीत हुई। वीडियो में मनेंद्र के बातचीत करने का तरीका धमकाने जैसा लग रहा है। इसके बाद वह कार में अपने साथी के साथ बैठकर चला गया। परिजनों ने पुलिस को फुटेज दिखाते हुए कहा कि इसी धमकी की वजह से ही अधिवक्ता आत्महत्या करने को मजबूर हो गए। मुनेंद्र हस्तिनापुर विधायक की सह पर रौब दिखा रहा था।

स्वाति ने लगाया था हत्या का आरोप
कुछ दिन पूर्व अधिवक्ता के बड़े बेटे लव तोमर की पत्नी स्वाति ने ससुर की हत्या किए जाने का आरोप लगाया था। इसी के चलते पुलिस ने 13 फरवरी की सुबह की फुटेज भी देखी। फुटेज में दस बजे के करीब अधिवक्ता स्वयं ग्रिल में रस्सी बांधते दिख रहे हैं। इसके बाद उन्होंने नीचे खड़ी स्कूटी को अलग किया। 10 बजकर चौदह मिनट पर फंदे पर लटक गए। लगभग ग्यारह बजे के करीब पड़ोसी कालू उनके घर पंहुचा, जहां उसे अधिवक्ता का शव लटका हुआ मिला। फुटेज में आत्महत्या के बाद अफरा-तफरी दिखी है। स्थानीय लोगों ने मिलकर शव को नीचे उतारा।

विधायक की गिरप्तारी की मांग
पुलिस मंगलवार को ईशापुरम स्थित अधिवक्ता के घर पंहुची तो परिजन बेहद गुस्से में दिखे। मृतक के बेटे लव तोमर ने बताया कि पुलिस अभी तक सबूतों के चलते विधायक व अन्य आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही थी। लेकिन अब सारे सबूत पुलिस के हाथ में हैं। फुटेज में धमकी देने से लेकर आत्महत्या किए जाने तक के घटनाक्रम साफ दिख रहे हैं। पुलिसकर्मियों से कहा कि हम भी कानून जानते हैं। अब आपके पास विधायक व अन्य सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पर्याप्त सबूत हैं। अगर अब भी उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया तो बहुत बुरा होगा। जिसका आप अंदाजा नहीं लगा सकते। पुलिस नहीं समझ सकती की मृतक के परिजनों पर क्या गुजर रही है। परिजनों ने मंगलवार को विधायक पर फैसले में कमीशन लेने का आरोप लगाया। कहा कि पहले फैसला दस लाख रुपए में हो रहा था, लेकिन बाद में विधायक के कमीशन के पांच लाख जोड़कर इसे पंद्रह लाख कर दिया।

अपने प्रेमी को अश्लील फोटो भेजती थी स्वाति: लव कुमार
मृतक के बड़े बेटे लव कुमार ने बताया कि उसकी पत्नी स्वाति का मुजफ्फरनगर निवासी एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा है। वह दिन में कई घंटे उससे फोन पर बातचीत व चैट करती थी। परिजनों द्वारा मना किए जाने पर भी वह नहीं मानी। आरोप है कि स्वाति अपने प्रेमी को खुद ही के अश्लील फोटो भेजती थी। लव ने बताया कि स्वाति द्वारा लगाए गए सारे आरोप निराधार व गलत हैं। उल्टा उसके प्रेम संबंध एक युवक से हैं जो फिलहाल पंजाब में रह रहा है। लव ने फोटो व चैट मीडियाकर्मियों के दिखाते हुए कहा कि उनके पास स्वाति के प्रेम संबंधों के सैकड़ों सबूत हैं।

Check Also

ग्राम प्रधानों को प्रोत्साहन राशि से किया गया सम्मानित

THE BLAT NEWS:  मऊ। मंगलवार को जनपद के विकास खण्ड रानीपुर के अन्तर्गत ग्रामसभा ब्राह्मणपुरा …