नेपाल की चोटी से पांच पर्वतारोहियों को बचाया गया, एक लापता

काठमांडू । नेपाल में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से कहर बरपा हुआ है। यहा, खराब मौसम और भारी बर्फबारी के कारण मेरा पीक पर फंसे पांच पर्वतारोहियों जिसमें चार विदेशी और एक गाइड को बचा लिया गया है, जबकि एक पर्वतारोही अभी भी लापता है। इस बात की जानकारी शुक्रवार को प्रशासन ने दी है।

गुरुवार देर रात एक बयान में, नेपाल पर्वतारोहण संघ ने कहा, पर्वतारोही शिखर पर पहुंचकर लौटते समय पहाड़ पर फंस गए थे। उन्हें मंगलवार को बचाया गया और हेलीकॉप्टर से राजधानी काठमांडू लाया गया। उनका काठमांडू स्थित अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है।

अभियान दल के साथ नेपाली पर्वतारोही अभी भी माउंट एवरेस्ट के करीब 6,476 मीटर ऊंची चोटी पर लापता है, एसोसिएशन ने कहा कि 5,800 मीटर से 6,500 मीटर तक 27 हिमालयी पहाड़ों की चढ़ाई के लिए परमिट जारी किया जाता है।

एसोसिएशन के अध्यक्ष शांता बीर लामा ने सिन्हुआ को बताया कि पर्वतारोही मंगलवार की रात से फंसे हुए थे क्योंकि मौसम अचानक खराब हो गया था। जिसके कारण उनके लिए राहत और बचाव कार्य के लिए हेलीकॉप्टर भी नहीं भेज सकते थे।

उन्होंने कहा, एक ब्रिटिश नागरिक सहित तीन पर्वतारोही पिछले तीन दिनों से 5,600 मीटर की ऊंचाई पर एक गुफा में रह रहे थे, जबकि अन्य पर्वत के आधार शिविर में फंसे हुए थे।

गौरतलब है कि पांच पर्वतारोही को समय रहते बचा लिया गया। वहीं, एक नेपाली पर्वतारोही की तलाश की जा रही है। नेपाल में पिछले कुछ दिनों सें बेमौसम बारिश हो रही है, जिससे बाढ़ और भूस्खलन स्थिति पैदा हो गई है। इस आपदा में 101 लोगों की मौत हो गई है जबकि 41 लापता हैं।

Check Also

कंबोडिया ने ओमिक्रॉन वेरिएंट प्रभावित अफ्रीकी देशों से यात्रा प्रतिबंध हटाया

नोम पेन्ह  । कंबोडिया ने 10 अफ्रीकी देशों के यात्रियों पर से प्रतिबंध हटा दिया …