‘छिछोरे’ को बेस्ट हिंदी फिल्म का अवॉर्ड मिलने पर भावुक हुए सुशांत के पिता, कहा- बेटे पर गर्व है

 

मुंबई। 67वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड की घोषणा कर दी गई है जिसमें सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर की बेहतरीन फिल्म छिछोरे को बेस्ट हिंदी फिल्म चुना गया है। ये फिल्म 2019 में रिलीज़ हुई थी जिसे खूब पसंद किया गया था। फिल्म हॉस्टल लाइफ पर बेस्ड थी लेकिन फिल्म ने स्ट्रॉन्ग मैसेज आज के युवाओं को दिया था। यही कारण था कि फिल्म सीधे यूथ को छू गई और खूब पसंद की गई।

जहां एक तरफ सोशल मीडिया पर सुशांत के फैंस इस पर खुशी जाहिर कर रहे हैं। तो वहीं बेटे की फिल्म को मिले इस सम्मान से उनके पिता के.के. सिंह बेहद खुश हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें आज अपने बेटे पर बहुत गर्व हो रहा है। श्रद्धा और सुशांत के अलावा फिल्म में वरुण शर्मा, प्रतीक बब्बर के अलावा और भी कई एक्टर थे जिन्होंने बेहतरीन अभिनय किया था।

वहीं भले ही इस साल छिछोरे फिल्म को बेस्ट हिंदी फिल्म का नेशनल अवॉर्ड मिला हो लेकिन ये दुखद है कि फिल्म के लीड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत का निधन बीते साल 14 जून को हुआ था। उन्होंने सुसाइड की जिसके बाद काफी हंगामा मचा था।

उनके सुसाइड के कई कारण मीडिया में सामने आए जिसमें एक कारण था उनकी फिल्मों को प्रोत्साहन न मिलना। क्योकि बीते साल छिछोरे फिल्म को कोई भी अवॉर्ड नहीं दिया गया था, जबकि गली ब्वॉय जैसी फिल्म ने धूम मचाई थी। सुशांत की मौत के बाद ये मामला भी खूब गूंजा था।

वहीं जहां बेस्ट फिल्म छिछोरे चुनी गई तो वहीं बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मनोज वाजपेयी को भोंसले फिल्म के लिए दिया गया है। इस फिल्म के लिए मनोज वाजपेयी को काफी सराहा गया था। वहीं एक बार फिर बेस्ट एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड गया है कंगना रनौत की झोली में। उन्हें मणिकर्णिका और पंगा के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री चुना गया है।

Check Also

पर्यावरण जागरूकता बौद्धिक एवं काव्य संगोष्ठी में विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े सैकड़ों लोगों को पूर्व आईएएस. अधिकारी डॉ.कमल टावरी – सन्त कमलानन्द जी भेंट करेंगे पर्यावरण जागरूकता स्मृति सम्मान -2024

लखनऊ उत्तर प्रदेश में पर्यावरण जागरूकता बौद्धिक एवं काव्य संगोष्ठी ट्रांसपोर्ट नगर मैट्रो स्टेशन से …