आला पुलिस अधिकारियों और थानेदारों के साथ बैठक

 

कानपुर। (द ब्लाट) एडीजी भानु भाष्कर ने बुधवार को आला पुलिस अधिकारियों और थानेदारों के साथ बैठक की। बैठक में उन्होंने थानेदारों को निर्देश दिए कि पंचायत चुनाव से पहले माफिया की कमर तोड़ दी जाए। बैठक के बाद एडीजी ने आइजी और डीआइजी के साथ शहर के तमाम हिस्सों में पैदल मार्च किया और कानून व्यवस्था का जायजा लिया। एडीजी भानु भाष्कर ने बताया कि शासन के निर्देश पर हर जिले में माफिया की सूची बनाई जा रही है। कानपुर नगर में भी सूची बन रही है। पंचायत चुनाव से पहले भूमाफिया, खनन, अपराध और ड्रग्स माफिया की कमर तोड़ी जाएगी। उनकी संपत्तियों का आंकलन करके पुलिस उसे जब्त करेगी और अवैध निर्माणों को ढहा दिया जाएगा। एडीजी ने लंबित विवेचनाओं को एक महीने के भीतर पूरा करने का निर्देश भी दिया। माफिया सूची में विवाद को लेकर एडीजी ने बताया कि जो नाम छूट गए हैं, उन्हें जोड़ने के लिए कहा गया है। यह सूची समय समय पर बढ़ती रहेगी। बैठक के बाद एडीजी भानु भाष्कर, आइजी मोहित अग्रवाल, डीआइजी डॉ. प्रीतिदर सिंह के साथ शहर में पैदल भ्रमण पर निकले। तीनों आला अधिकारियों ने चमनगंज, बजरिया और सीसीमऊ क्षेत्र में पैदल गस्त कर कानून व्यवस्था का जायजा लिया। इस मौके पर पुलिस अधिकारी सीसामऊ थाने का निरीक्षण करने पहुंचे। एडीजी ने बताया कि उन्होंने निर्देश दिया है कि हर महीने की पंद्रह तारीख को थानों व चौकियों पर क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों की बैठक आयोजित की जाए। इस बैठक में कानून व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, त्योहार, विवादों के बारे में चर्चा की जाएगी।