गोरखपुर में किशोरी के साथ हुआ सामूहिक दुष्कर्म, चौकी इंचार्ज व सिपाही सस्पेंड

गोरखपुर। शहर के बौलिया कॉलोनी में मंगलवार की रात एक डांसर को अगवा कर कुछ युवकों ने गैंगरेप किया और फिर छोड़कर भाग गए। वारदात को 24 घण्टे तक छिपाये रखने पर हड़हवा फाटक चौकी इंचार्ज व एक सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है। उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया है। वहीं सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर पीड़िता की पहचान उजागर करने वाले तीन लोगों पर भी विधिक कार्यवाही की जा रही है। इनमें दो सपा नेता हैं।

गोरखनाथ इलाके की रहने वाली किशोरी आर्केस्ट्रा पार्टी में डांस करती है। मंगलवार को पादरी बाजार इलाके में स्थित आयोजन में डांस करने गई थी। रात में करीब साढ़े दस बजे वह घर जाने के लिए निकली। उसके साथ दो और लड़कियां थीं। उन्होंने उसे अपने साथ चलने के लिए कहा लेकिन किशोरी ने कहा कि उसे घर जल्दी पहुंचना है इसलिए वह अकेले ही घर के लिए चल दीं। दोनों सहेलियां बौलिया रेलवे कालोनी मोड़ तक छोड़कर चली गईं।

किशोरी ने बताया कि बौलिया रेलवे कॉलोनी होते हुए वह पैदल ही घर के लिए निकल गई। रेलवे कॉलोनी के अंदर रास्ते पर ही बाइक सवार युवकों ने उसे अकेला देखकर मुंह दबाकर सुनसान स्थान पर ले गए और उसके साथ उन्होंने गलत काम किया। घटना के बाद सड़क के किनारे बैठकर वह बदहवास हाल में रो रही थी। कुछ लोगों ने उसे हड़वा फाटक चौकी पर पहुंचाया। चौकी की पुलिस ने उसे पूछताछ की तो किशोरी ने पूरी घटना की जानकारी दी।

सामने आई पुलिस की लापरवाही

पुलिसवालों ने किशोरी से उसके मां-बाप के बारे में पूछा और पता जानकारी करने के बाद उसे उसके घर पहुंचवा दिया। एसएसपी जोगेन्द्र कुमार को बुधवार को घटना की जानकारी हुई जिसके बाद इस मामले में सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज कर पुलिस ने आरोपितों की तलाश शुरू कर दी। वहीं एसएसपी ने चौकी इंचार्ज और सिपाही को सस्पेंड कर दिया। दोनों के खिलाफ केस भी दर्ज किया गया है।