Uncategorizedदेशब्रेकिंग न्यूज़राज्यराष्ट्रीय

यूपी सरकार की कार्रवाई : अनियमितता के आरोप में मंडी परिषद के छह अधिकारी निलंबित

भारी वित्तीय अनियमतता के आरोप में मण्डी परिषद के अलग-अलग मण्डलों में तैनात एक संयुक्त निदेशक तथा पांच उप निदेशक स्तर के अधिकारियों को निलम्बित कर दिया गया है। मण्डी निदेशक जेपी सिंह ने गुरुवार को सभी के निलम्बन आदेश जारी करते हुए कहा कि मण्डी परिषद बोर्ड के जीरो टॉलरेंस पॉलिसी के तहत यह कार्रवाई की गई है।

उन्होंने बताया कि मण्डी परिषद के अपर निदेशक को इन सभी की अनियमितताओं की जांच की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि वे जल्द से जल्द जांच पूरी कर सभी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करें। श्री सिंह ने बताया कि मण्डी परिषद मुख्यालय में तैनात संयुक्त निदेशक (निर्माण) के पद पर तैनात गोपाल शंकर की ओर से 2007 से 2014 के बीच आगरा में उप निदेशक (निर्माण ) के पद पर तैनाती के दौरान गम्भीर अनियमितताएं की गई।
वहीं उप निदेशक निर्माण हरी राम द्वारा अयोध्या में निर्माण खण्ड में तैनाती के दौरान भारी भ्रष्टाचार किया गया।

इसी प्रकार से उप निदेशक (निर्माण) राम नरेश द्वारा करनैलगंज नवीन मण्डी में अनियमितताएं की गई जबकि उप निदेशक (निर्माण) अशोक कुमार द्वारा मिर्जापुर निर्माण खण्ड में कोरोना काल के दौरान दायित्वों का पालन नहीं किया गया और भारी वित्तीय गड़बड़ियां भी की गई। साथ ही इन पर अनुशासनहीनता की भी कई गम्भीर शिकायतें हैं। इसी प्रकार से उप निदेशक (निर्माण) अतर सिंह पर शाहजहांपुर क्षेत्र के बण्डा में भारी अनियमितता की शिकायतें हैं जबकि उप निदेशक (प्रशासन/निर्माण) के पद पर साहिबाबाद (गाजियाबाद) में  भारी भ्रष्टाचार किया गया है। सभी के निलम्बन के आदेश गुरूवार को जारी कर दिए गए हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close