• January 23, 2021

क्या आप कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाएंगे? जानें सर्वे में लोगों ने क्या जवाब दिया

 क्या आप कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाएंगे? जानें सर्वे में लोगों ने क्या जवाब दिया

ब्रिटेन और अमेरिका ने बड़े स्तर पर कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण का काम शुरू कर दिया है. अमेरिका में एक सर्वे किया गया है जिसमें लोगों से सवाल हुआ कि क्या वो वैक्सीन लगवाना चाहेंगे, जानें कि लोगों ने क्या जवाब दिया.
दुनिया के कई देश अब कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल की ओर कदम बढ़ा चुके हैं. अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देशों ने युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन के काम को आगे बढ़ाया है. कोरोना संकट को मात देने के लिए वैक्सीन ही एक रास्ता नज़र आ रहा है, लेकिन एक सर्वे में कुछ हैरान करने वाले आंकड़े सामने आए हैं. अमेरिका में किए गए सर्वे के मुताबिक, मौजूदा परिस्थितियों में करीब 50 फीसदी लोग ही अपनी मर्ज़ी से कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाना चाहते हैं.

अमेरिका की वर्जिनिया कॉमनवेल्थ यूनिवर्सिटी द्वारा वहां के युवाओं पर एक सर्वे किया गया, जिसमें कोविड वैक्सीन के इस्तेमाल की मिली इजाजत को लेकर सवाल हुए और पूछा गया कि क्या वो वैक्सीन का टीका लगवाएंगे. करीब 50 फीसदी लोगों ने या तो ना में जवाब दिया, वरना टालने की कोशिश की.

जारी किए गए सर्वे पेपर के अनुसार, करीब 800 अमेरिकी लोगों से ये सवाल पूछा गया. जिसमें 59 फीसदी लोगों ने कहा कि वो वैक्सीन लगाने को तैयार हैं, 18 फीसदी से अधिक लोगों ने कोई सटीक जवाब नहीं दिया. 22 फीसदी लोगों ने वैक्सीन लगवाने से सीधा इनकार किया.
सर्वे में क्या सामने आया ?
जब सवाल हुआ कि क्या इमरजेंसी स्थिति में मिली इजाजत के तहत आप वैक्सीन लगवाएंगे तो 46.9 फीसदी लोगों ने हां, शायद हां में जवाब दिया. जबकि 53.1 फीसदी लोगों ने नहीं और शायद नहीं कह दिया. दरअसल, सर्वे में ये बात सामने आई है कि आपातकालीन स्थिति में मिल रही इजाजतों को लेकर लोगों में डर है और वैक्सीन से साइड इफेक्ट होने का खतरा है.

इसके अलावा सर्वे में जो अन्य बातें सामने आई हैं, उनके अनुसार युवाओं को वैक्सीन लगवाने से दिक्कत नहीं हैं हालांकि अधिक उम्र वालों ने आपत्ति जताई है. श्वेत लोगों ने कोई आपत्ति नहीं जताई, लेकिन अश्वेत लोगों ने आपत्ति जताई है.

सिर्फ अमेरिका ही नहीं, बल्कि अन्य कुछ देशों में भी इस तरह के ट्रेंड सामने आए हैं जहां लोग जल्दबाजी में वैक्सीन लेने से बच रहे हैं. गौरतलब है कि हाल ही में वैक्सीन लगने के बाद दो लोगों को एलर्जी की शिकायत सामने आई थी, जिसके बाद काफी सवाल खड़े हुए थे. हालांकि, फाइज़र कंपनी ने कहा था कि उन मरीजों को पहले से ही दवाईयों से एलर्जी थी.

आपको बता दें कि ब्रिटेन में फाइज़र की वैक्सीन आम लोगों को देना शुरू हो गया है, अमेरिका ने भी बड़े स्तर पर इसकी शुरुआत कर दी है. मॉर्डना वैक्सीन को भी मंजूरी जल्द मिल सकती है.


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4755