जानलेवा हमले में शिक्षक नेता गम्भीर अवस्था में, छोटे भाई की हुई मौत

कादीपुर,सुल्तानपुर । जिले के कादीपुर कोतवाली अंतर्गत 29 अक्टूबर बृहस्पतिवार को पूरानी रंजिश के चलते हुई दो पक्षो के फौजदारी में शिक्षक नेता वीरेन्द्र नारायण मिश्र को हेड इंजरी और उनके अनुज शैलेंद्र मिश्र की मौत हो गई।घटना कादीपुर खुर्द पूरे मिसरान गांव ब्लॉक कादीपुर की है। सुबह 6 बजे माताप्रसाद मिश्र के पुत्रो वेद प्रकाश मिश्र,सत्य प्रकाश मिश्र और ज्ञान प्रकाश मिश्रा ने जान से मारने की नीयत से लाठी डंडा और सरिया से हमला कर दिया। जिससे वीरेंद्र नारायण मिश्रा और उनके भाई शैलेन्द्र मिश्रा अत्यंत गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों भाईयों को मरा समझ कर हमलावर फरार हो गए। जब स्थानीय गांव और परिजनों को पता चला तो घटना स्थल पहुँच कर दोनो घायलों को कादीपुर सामुदायिक केंद्र उपचार हेतु भर्ती कराया। हालत नाजुक देख चिकित्सको ने जिला अस्पताल रिफर कर दिया। किन्तु शैलेन्द्र मिश्रा उम्र 35 वर्ष की स्थिति ठीक नही होने और उन्हें जिला अस्पताल से ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफेर उया गया जहाँ इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई ।शैलेन्द्र मिश्रा की पत्नी सावित्री और 2 पुत्र पार्थ 5 वर्ष और शौर्य 2 वर्ष है।शिक्षक नेता वीरेंद्र नारायण मिश्र उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला के वरिष्ठ उपाध्यक्ष है। घटना की सूचना मिलते ही जिला अस्पताल में शिक्षको की भारी तादात में भीड़ एकत्र ही गयी। मिश्रा के शरीर मे कई अंगों पर गम्भीर चोट आई सिर फट गया है। हाल चाल लेने जिलाअस्पताल पहुँचे शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष दिलीप पाण्डेय ,जिला प्रवक्ता निजाम खान, जिला मंत्री हृषिकेश भानु सिंह जिला उपाध्यक्ष प्रशांत पाण्डेय,विनोद यादव,अंजनी शर्मा ,सुनील पाण्डेय,सुभाष तिवारी,राम बहादुर मिश्र आदि हाल चाल लेने के लिए आक्रोशित सैकड़ो शिक्षको का जमावड़ा लगा है उधर गांव में शैलेंद्र के मृत्यु की खबर सुनकर कोहराम मच गया परिजनों और बच्चों में कई लोग बेहोश हो गए है।

blat