कोटा । राजस्थान के नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर बीस साल में कोटा नगर निगम में अपने शासनकाल के दौरान और जब-जब प्रदेश में उसकी सरकार रही, कोटा में आधारभूत विकास कार्य करवा पाने में विफल रहने का आरोप लगाया हैं।

श्री धारीवाल ने आज कोटा दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न वार्डों में चुनाव प्रचार के दौरान आरोप लगाया कि भाजपा सदैव यह आरोप लगाती रही है कि कांग्रेस के शासनकाल के दौरान पूरा बल सौंदर्यकरण पर होता है।

उन्होंने कहा कि पिछले दो दशकों में भाजपा के नगर निगम बोर्ड के दौरान न तो शहर में सौंदर्यकरण के काम हुए और न ही आधारभूत सुविधाओं का विकास हुआ है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में जब से कांग्रेस की सरकार बनी है, तब से शहर में आधारभूत विकास कार्य बड़े पैमाने पर काम चल रहे हैं।

इसके तहत कोटा में वर्तमान में न केवल फ्लाई ओवर, अंडरपास के साथ तीन पार्किंग स्थल भी निर्माणाधीन है बल्कि शहर में आमजन की सुविधा के लिए 20 सामुदायिक भवन का काम किया जा रहा है।

श्री धारीवाल ने कहा कि उनकी सरकार खोखले दावे नहीं करती बल्कि जमीनी तौर पर काम करके दिखाती है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कोटा को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के लिए चंबल रिवर फ्रंट प्रोजेक्ट को बहुत महत्व दे रही है जिसके तहत चंबल के दोनों तटीय इलाकों में कई पर्यटन स्थल विकसित किए जाएंगे ताकि बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित किया जा सके।

उन्होंने विपक्षी दलों की ओर से फैलाई जा रही है इस अफवाह को निराधार बताया कि चंबल रिवर फ्रंट के विकास के दौरान तटीय इलाकों में बसी आवासीय कॉलोनियों को नुकसान पहुंचाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं होगा बल्कि इन बस्तियों को छोड़कर चंबल रिवर फ्रंट के इलाके को विकसित और उसके सौदरीकरण का कार्य किया जाएगा जिससे चंबल नदी के तटीय इलाकों में बसी इन बस्तियों के लोगों को लाभ होगा।

उनकी जमीनों की कीमत बढ़ेगी।

श्री धारीवाल ने कहा कि पिछले सालों में जब-जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार रही है और कोटा नगर निगम और नगर विकास न्यास में कांग्रेस के अध्यक्ष रहे है, तब तक न केवल कोटा शहर की कच्ची बस्ती का विकास हुआ है बल्कि इन कच्ची बस्तियों में वर्षों से रह रहे लोगों को आवासीय पट्टे न्यास और कोटा नगर निगम की ओर से वितरित किए गए।

जबकि भाजपा के शासन के दौरान उसका नगर निगम बोर्ड रहने के बावजूद लोगों को पट्टे नहीं मिल पाए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने 2890 करोड़ के काम किए जा रहे है।

इसके बाद शहर की छवि अलग ही नजर आएगी।

श्रह धारीवाल ने कहा कि कोटा के उत्तर और दक्षिण दोनों नगर निगम के चुनाव में कांग्रेस की जीत निश्चित है।

दोनों नगर निगम में भाजपा का बोर्ड बनने वाले नहीं हैं इसी आशंका के कारण उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ अपनी पूरी ताकत कोटा में लगाए हुए हैं और पिछले एक पखवाड़े से यहां डेरा डाले हुए हैं।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673