आईसीआईसीआई बैंक ने ‘प्रेरणा’’ के लिए जताया एचडीएफसी बैंक के आदित्य पुरी का आभार

मुंबई । आईसीआईसीआई बैंक ने अपने सबसे बड़े प्रतिद्वंदी बैंक एचडीएफसी बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आदित्य पुरी का बैंकिंग क्षेत्र के लिए ‘प्रेरणा’ देने के लिए आभार जताया। पुरी के सेवानिवृत्ति के मौके पर आईसीआईसीआई बैंक ने उनके भारतीय बैंकिंग उद्योग में योगदान की सराहना की। उल्लेखनीय है कि आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक देश में निजी क्षेत्र के दो सबसे बड़े बैंक हैं। पुरी ने एचडीएफसी बैंक की स्थापना से लेकर 25 साल से भी अधिक समय तक इसकी कमान संभाली। उन्होंने आईसीआईसीआई बैंक से निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक का तमगा छीनते हुए एचडीएफसी बैंक को उसकी जगह बैठाया। वह सोमवार को अपने पद से सेवानिवृत्त हो गए। आईसीआईसीआई बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘‘आईसीआईसीआई बैंक भारतीय बैंकिंग उद्योग में आदित्य पुरी के योगदान के लिए उनका आभार व्यक्त करता है।’’ बैंक ने कहा, ‘‘अपने कई दशकों के कार्यकाल में आप कई लोगों के लिए प्रेरणा बने रहे। हम आपके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं।’’ हाल में एक साक्षात्कार के दौरान पुरी ने आईसीआईसीआई बैंक के साथ अपनी प्रतिस्पर्धा और उसे पीछे छोड़ने के बारे में अपना पक्ष रखा था। उन्होंने कहा था कि आईसीआईसीआई बैंक के दीर्घकालिक प्रमुख के. वी. कामथ भी एक भविष्यदृष्टा थे और उनके भीतर ज्यादा साहस था लेकिन ‘सावधानी के साथ साहसिक फैसले लेने’ की क्षमता ने एचडीएफसी बैंक की मदद की।

blat