राम जानकी मन्दिर के महंत को बदमाशों ने मारी गोली, हालत नाजुक

 

– पुलिस ने नामजद दो अभियुक्तों को हिरासत में लिया

गोंडा । तिर्रेमनोरमा गांव की राम जानकी मंदिर के महंत को शनिवार देर रात करीब दो बजे सोते समय गोली मार दी गई। घायल महंत को जिला चिकित्सालय से लखनऊ रेफर किया गया है। डीआईजी और पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। तिर्रेमनोरमा गांव में महर्षि उद्दालक का आश्रम है, जिसमें राम जानकी का प्राचीन मंदिर बना हुआ है। बाबा सम्राट दास यहां के महंत है। शनिवार रात जब वह मंदिर परिसर में सो रहे थे, तभी अज्ञात हमलावरों ने उन्हें गोली मार दी। गोली उनके कंधे पर लगी है। आवाज सुनकर जब आसपास के लोग इकट्ठा हुए तो हमलावर वारदात को अंजाम देकर फरार हो चुके थे। महंत को जिला अस्पताल लाया गया। डॉक्टरों ने उनकी हालत गंभीर होने पर लखनऊ रेफर कर दिया। पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडे ने रविवार को बताया कि पुलिस की प्रारंभिक जांच पड़ताल में जमीन विवाद का मामला सामने आया है। मंदिर के नाम करोड़ों रुपये की जमीन है। इसी जमीन पर भूमाफिया की नजर है, कुछ दिन पहले भी इसी जमीन को लेकर बाबा और गांव के कुछ लोगों के बीच विवाद हुआ था। इसके बाद बाबा को पुलिस की तरफ से सुरक्षा मुहैया कराई गई थी। बाबा की सुरक्षा में दो सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया था। महंत की तहरीर पर गांव के ही चार लोगों पर जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। नामजद किए गए दो आरोपित पुलिस की हिरासत में है। उनसे पूछताछ की जा रही है। गांव में ऐहतियातन के तौर पर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

blat