नक्सलियों ने बम के साथ चिट्ठी रख ग्राम प्रधानों से मांगें लाखों रुपए

 

भदोही । उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के गोपीगंज में एक सनसनीखेज घटना ने पुलिस की नींद उड़ा दी है। रविवार को एक ग्राम प्रधान और उसके पड़ोसी के यहां से जिंदा बम और नक्सलियों की चिट्टी मिली है। बम ग्राम प्रधान की कार के ऊपर मिला है। चिट्टी में चार ग्राम प्रधान समेत पांच लोगों से अलग-अलग 17 लाख से रुपए की मांग भी की गई है। बम को निष्क्रिय करने के लिए वाराणसी से डिस्पोजल दस्ता बुलाया गया है। मामले की जांच में आला पुलिस अधिकारी जुट गए हैं। ग्राम प्रधान की सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए हैं। गोपीगंज कोतवाली के रामपुर कायस्थान गांव में दो जिंदा देशी बम मिले हैं। एक बम और चिट्टी ग्राम प्रधान रमेश सिंह के घर में खड़ी वैगनआर कार के ऊपर मिला। दूसरा वहां से 100 मीटर की दूरी पर जमालुद्दीन खान की चहारदीवारी के बाहर खेत में मिला। घटना स्थल के पास से ही एक चिट्टी भी मिली है। जिसमें ग्राम प्रधान से दो लाख रुपये के साथ ख़ान से दस लाख की मांग की गईं है। पैसा न देने पर जान से मारने की धमकी भी दी गईं है। साथ ही जौनपुर में हुईं एक ग्राम प्रधान की हत्या की छपी ख़बर की कटिंग भी लगाई गईं है। कथित नक्सलियों ने जिस स्थान पर पैसा देना है उसका नक्शा भी बनाया है। साथ में आधी रात को पैसा पहुंचने और मिसाइल बम तकनीक का भी विवरण है। ग्राम प्रधान रमेश सिंह और पड़ोसी जमालुद्दीन के साथ तीन दूसरे ग्राम प्रधानों शम्भूपुर गांव के सदापाल से दो लाख, रामपुर घाट के ग्राम प्रधान बटेेश्वर सरोज से एक लाख और जबकि कंकराही के ग्रामप्रधान रामा यादव से दो लाख रुपए की मांग की गईं है। लाल और नीले पेन से चिट्टी लिखी गई है। जिसमें नक्सलवादी ग्रुप झारखंड, बिहार और सोनभद्र लिखा गया है। चिट्टी में यह भी दावा किया गया है कि 28 जिलों में इस तरह की तैयारी पुरी हो चुकी है। लिखा गया है कि यह पैसा बेमौत मर रहे गरीब और उनकी बेटियों की शादी में दिया जाएगा। सरकार बेगुनाहों को जेल में ठूंस रही है। इसमें बम निष्क्रीय करने के उपाय भी बताए गए हैं। इस तरह की घटना आने के बाद हड़कम्प मच गया है। नक्सली पत्र व बम की सूचना पर थाना गोपीगंज की पुलिस के अतिरिक्त जिले के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। जिन्दा बम को निष्प्रभावी करने के लिए वाराणसी से पीएसी बटालियन दस्ता बुलाया गया है। पुलिस अधीक्षक आरबी सिंह ने जांच के लिए स्थानीय पुलिस के अतिरिक्त क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम लगाई गई है। पुलिस ने कहा है कि जांच के बाद स्थिति साफ होगी।

blat