हाथरस कांड: सीबीआई करेगी सिर्फ गैंगरेप और मौत के मामले की जांच

-जातीय संघर्ष फैलाने, हिंसा भड़काने की कथित आपराधिक साजिश से संबंधित जांच यूपी सरकार करेगी

हाथरस । जनपद में 14 सितम्बर को दलित लड़की के साथ हुए कथित दुष्कर्म के मामले में सीबीआई ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। सीबीआई केवल हाथरस में 19 वर्षीय लड़की से गैंगरेप और मौत से संबंधित मामले की जांच करेगी। जातीय संघर्ष फैलाने, हिंसा भड़काने की कथित आपराधिक साजिश से संबंधित जांच प्रदेश सरकार करेगी। हाथरस के चंपदा कोतवाली इलाके के गांव में 14 सितम्बर को लड़की के साथ मारपीट की घटना का मामला सामने आया था जिसके बाद पुलिस ने धारा 307 व एससी/एसटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की थी। बाद में पीड़ित लड़की के बयान के आधार पर एफआईआर में छेड़छाड़ की धारा बढ़ाई गई। 22 सितम्बर को पीड़ित लड़की ने बयान दिया तब एफआईआर में सामूहिक दुष्कर्म की धारा 376 डी को बढ़ाया गया। पीड़ित लड़की की 29 सितम्बर को दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में मौत हो गई थी। घटना के बाद प्रदेश के साथ देश में प्रदर्शन शुरू हो गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश सरकार ने तीन अक्टूबर को घटना की सीबीआई जांच कराने की संस्तुति की थी। अब सीबीआई ने इस मामले को टेकओवर कर लिया है। सीबीआई ने एफआईआर दर्ज कर गाजियाबाद यूनिट को इस पूरे मामले की जांच सौंपी है। जानकारी के अनुसार एफआईआर रात 12:30 बजे दर्ज की गई है। जांच महिला डिप्टी एसपी सीमा पाहुजा को दी गई। जांच अधिकारी गाजियाबाद की एंटी करप्शन यूनिट में तैनात है।

blat