अवैध खनन रोकने पर डम्फर व ट्रक ने पीआरवी को मारी टक्कर, सिपाही और पीआरडी जवान की मौत

 

रायबरेली । अवैध खनन को रोकने से बौखलाये खनन माफिया ने डम्फर से पीआरवी वाहन को टक्कर मार दी, जिसमें एक सिपाही की मौत हो गई, जबकि घटना के बाद डम्फर को पकड़ने में लगी एक दूसरे पीआरवी वाहन को भी ट्रक ने अपनी चपेट में ले लिया। इसमें एक पीआरडी जवान की मौत हो गई।पीआरवी में मौजूद तीन लोगों को गंभीर चोटें आई हैं।जिनका अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। घटना शनिवार की देर रात की है। मिल एरिया थाना क्षेत्र के हरदासपुर में काफी दिनों से मिट्टी का अवैध खनन किया जा रहा था। शनिवार की देर रात एक पीआरवी ने जब डम्फर को रोकना चाहा तो उसने रुकने के बजाय पुलिस की गाड़ी पर ही डम्फर चढ़ा दिया और मौके से भाग निकला। घटना में मौक़े पर ही पीआरवी 1742 के आरक्षी उमेश कुमार की मौत हो गई जबकि गंभीर रूप से घायल हो गए। इस दुस्साहिक घटना की जैसे ही पुलिस को जानकारी मिली,डम्फर को पकड़ने में पुलिस की कई टीमें लग गई। इसमें सुल्तानपुर रोड पर रेयान स्कूल के पास नाकेबंदी कर वाहनों को रोकने के प्रयास में एक पीआरवी वाहन को ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। ट्रक की टक्कर से पीआरवी में मौजूद पीआरडी जवान राजदेव की मौक़े पर ही मौत हो गई, जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। इसमें एक पीआरडी जवान मेवालाल को लखनऊ रेफर किया गया है। अन्य सभी घायलों का जिला अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। ट्रक चालक को मौके पर पकड़ लिया गया है। इस दुस्साहिक घटना के बाद पुलिस ने तेजी दिखाते हुए डम्फर चालक को भी पकड़ लिया है।पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया डम्फर चालक को लापरवाही से गाड़ी चलाने के लिए टोका गया था बावजूद इसके उसने पीआरवी को टक्कर मार दी। डम्फर चालक को गिरफ़्तार कर लिया गया है और दोनों पर मुकदमा दर्ज कर विधिक कारवाई की जा रही है।दरअसल पूरे जिले में अवैध खनन का कारोबार चल रहा है।जिसमे कई बार पुलिस के कुछ लोंगो की मिलीभगत भी सामने आई है।बावजूद इसके किसी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई जिसका खामियाजा आज पुलिस के दो जवानों को अपनी जान देकर गवानी पड़ी।

blat