• January 28, 2021

बदल रही है बिहार की राजनीति? BJP-कांग्रेस रहीं हावी

 बदल रही है बिहार की राजनीति? BJP-कांग्रेस रहीं हावी

आंकड़ों को उठाकर देखा जाए, तो पता चलता है कि ये दल बड़ी मुश्किल से खुद की ताकत की दम पर राजनीतिक प्रतिनिधित्व कर पा रहे हैं.
बिहार की राजनीति अब बदलने लगी है. अभी तक जिन चुनावों में क्षेत्रीय दलों के पीछे राष्ट्रीय पार्टियां चला करती थीं, वो आज इन पर भारी पड़ रही हैं. चाहे कांग्रेस हो या फिर बीजेपी, दोनों ही पार्टियां इस बार सीट शेयरिंग में क्षेत्रीय दलों पर भारी पड़ीं. आरजेडी से कांग्रेस ने 70 सीटें लीं, तो वहीं बीजेपी और जेडीयू का लगभग बराबरी पर समझौता हुआ है.

पिछले पांच चुनाव पर यदि डालें नजर
बिहार की राजनीति के प्रमुख दलों के पिछले पांच चुनाव के आंकड़ों को उठाकर देखा जाए, तो पता चलता है कि ये दल बड़ी मुश्किल से खुद की ताकत के दम पर राजनीतिक प्रतिनिधित्व कर पा रहे हैं. दरअसल गठबंधन में सीटें बंट जाने के चलते इन दलों को खुलकर चुनाव लड़ने का मौका ही नहीं मिल पा रहा है. वहीं गठबंधन और बंटवारे की इस प्रक्रिया में कहीं न कहीं कार्यकर्ताओं में भी उत्साह कम होता जा रहा है. पिछले चुनावों के परिणाम बताते हैं कि प्रदेश में कोई भी दल अकेले चुनाव जीतने की स्थिति में नहीं है. दरअसल सरकार बनाने की चाह में इन दलों ने अपने संगठन की ताकत क्षेत्र विशेष या सीट विशेष तक ही सीमित रखी है.


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4755