नई दिल्ली। कांग्रेस ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की आरोपी और पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा को जद (यू) से बिहार विधानसभा का टिकट मिलने पर आपत्ति जताते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि अगर नीतीश कुमार एवं भाजपा महिला सुरक्षा को लेकर गंभीर हैं तो उन्हें इस महिला नेता की उम्मीदवारी तत्काल वापस लेनी चाहिए। पार्टी प्रवक्ता सुष्मिता देव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यह आग्रह भी किया कि वह इस मामले में दखल दें और अगर जद (यू) मंजू वर्मा को चुनावी मैदान से नहीं हटाती है तो भाजपा को उसके साथ गठबंधन खत्म करना चाहिए। गौरतलब है कि जद (यू) ने मंजू वर्मा को बेगूसराय जिले की चेरिया-बरियारपुर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है। मंजू का नाम मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में आने के बाद उन्हें मंत्री पद से हटा दिया गया था। फिलहाल वह जमानत पर बाहर हैं। अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘महिला सुरक्षा को लेकर यह सरकार और भाजपा कितनी गंभीर है, उसे हमने हाथरस के मामले में और कई अन्य मामलों में देख लिया है। अब बिहार में मंजू वर्मा को उम्मीदवार बनाया गया है, जो बच्चियों से दुष्कर्म से जुड़े मामले में आरोपी हैं।’’ उन्होंने सवाल किया कि भाजपा और उसके सहयोगी दल महिला सुरक्षा के मुद्दे को गंभीरता से लेते हैं या नहीं? कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी से हम कहना चाहते हैं कि आपने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का अभियान चलाया और ऐसे में आपकी जिम्मेदारी है कि मंजू वर्मा की उम्मीदवारी रद्द करवाएं या फिर गठबंधन तोड़ दें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर नीतीश कुमार जी और सुशील मोदी जी महिला सुरक्षा को महत्वपूर्ण मानते हैं तो मंजू वर्मा की उम्मीदवारी तत्काल वापस ली जाए।’’ कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने दावा किया, ‘‘इस उम्मीदवारी का मतलब यह है कि उन्हें पहले मंत्री पद से हटाया जाना पाखंड था। यह पाखंड नहीं चलेगा।’’ उन्होंने कहा कि अगर मंजू उम्मीदवार बनी रहती हैं तो इससे साफ हो जएगा कि भाजपा और जद (यू) में महिला सुरक्षा को लेकर कोई नैतिकता नहीं बची है।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673