भारत में कोरोना के एक्टिव केस घटे, यूरोप में पहली लहर से भी अब तेज बढ़ रहे मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी कहा कि भारत लगातार कोरोना वायरस के एक्टिव केसों की संख्या को लगभग 2 हफ्ते से 10 लाख से नीचे रखे हुए हैं. इसी के साथ-साथ कोरोना से रिकवर हुए मरीज़ों की संख्या में भी भारी इजाफा हुआ है, अब तक कुल 55.86 लाख लोग कोरोना वायरस से ठीक हो चुके हैं, जिससे रिकवरी रेट 84 प्रतिशत तक पहुंच गया है.
भारत में कोरोना वायरस के कुल केस मंगलवार को 66,85,083 तक पहुंच गए. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार इनमें से 9,19,023 एक्टिव (सक्रिय) केस हैं. इसी के साथ यह कहा जा सकता है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले धीरे-धीरे नीचे आने लगे हैं. 16 सितंबर को भारत में एक्टिव कोरोना वायरस केस 10 लाख पार कर गए थे और लगभग एक हफ्ते तक ऊपर ही बने रहे. 21 सितंबर को ये आंकड़ा दस लाख से नीचे आया और तब से यह ऐसे ही नीचे जा रहा है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी कहा कि भारत लगातार कोरोना वायरस के एक्टिव केसों की संख्या को लगभग 2 हफ्ते से 10 लाख से नीचे रखे हुए हैं. इसी के साथ-साथ कोरोना से रिकवर हुए मरीज़ों की संख्या में भी भारी इजाफा हुआ है, अब तक कुल 55.86 लाख लोग कोरोना वायरस से ठीक हो चुके हैं, जिससे रिकवरी रेट 84 प्रतिशत तक पहुंच गया है.

रिकवरी हर दिन आने वाले नए केसों की तुलना में कहीं ज्यादा
एक्टिव केसों के साथ-साथ भारत में कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या में भी भरी गिरावट देखने को मिली है. जहां सितंबर के अंत तक हर दिन करीब 1100 कोरोना मरीजों की मौत रिपोर्ट हो रही थीं, वहीं अब हर दिन 1000 के आस-पास मौतें दर्ज हो रही हैं. इससे साफ हो जाता है कि भारत में एक्टिव केसों में गिरावट रिकवरी अच्छी होने की वजह से ही बढ़ी है. और वो भी तब जब भारत हर दिन लगभग 10 लाख लोगों को टेस्ट कर रहा है. लेकिन भारत ही केवल ऐसा देश नहीं है जहां पर कोरोना वायरस के एक्टिव मामले घटे हों. उन देशों में जहां कोरोना के सक्रिय केसों की संख्या 50,000 से ज़्यादा है, उनमें ब्राज़ील, बांग्लादेश और पेरू ऐसे देश हैं जहां कोरोना वायरस के एक्टिव केस धीरे-धीरे नीचे आ रहे हैं. पेरू में 93,000 के करीब एक्टिव कोरोना केस हैं. वहीं बांग्लादेश में यह आंकड़ा 82,000 के आस-पास हैं. सोमवार को ब्राज़ील में 5 लाख एक्टिव केस थे.