देश में लगातार दूसरे हफ्ते उपचाराधीन मामलों की संख्या दस लाख से कम बनी हुई है : स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली। भारत में लगातार दूसरे हफ्ते कोविड-19 के उपचाराधीन मामलों की संख्या 10 लाख से कम बनी हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि अब तक 55,86,703 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं तथा मरीजों के ठीक होने की दर 84.34 फीसदी है। केंद्र की ‘जांच करने, रोगियों पर नजर रखने, रोगियों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने तथा उपचार करने’ की रणनीति पर राज्यों की सरकारें और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन अमल कर रहे हैं। मंत्रालय ने कहा कि मामलों की समय रहते पहचान करने और देशभर में आक्रामक तरीके से तथा सुगम जांच करने से, रोगियों का पता लगाने और उनके संपर्कों का भी पता लगाने जैसे अन्य कदमों के अच्छे परिणाम सामने आए हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘लगातार 14वें दिन भी उपचाराधीन मामलों की संख्या 10 लाख से कम बनी हुई है। आज लगातार दूसरे हफ्ते, इलाज करवा रहे मरीजों की संख्या दस लाख से कम है।’’ स्वास्थ्य मंत्रालय के आज सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक देश में बीते 24 घंटे में कुल 76,737 मरीज संक्रमणमुक्त हुए जबकि इस दौरान संक्रमण के 74,442 नए मामले सामने आए। मंत्रालय ने कहा कि हाल के दिनों में संक्रमणमुक्त होने वाले लोगों की संख्या नए मामलों के मुकाबले अधिक है। उसने कहा कि ठीक हो चुके लोगों में से 75 फीसदी दस राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों जैसे महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, केरल, ओडिशा, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ से है। महाराष्ट्र में 15,000 से अधिक लोग संक्रमणमुक्त हुए हैं, जिसके बाद कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में 7,000-7,000 से अधिक लोग ठीक हुए। अब देश में कुल 9,34,427 मरीजों का इलाज चल रहा है जो संक्रमण के कुल मामलों का 14.11 फीसदी है। उपचाराधीन मामलों में से 77 फीसदी महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, असम, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल से है।

blat