कुशीनग । कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर रात में भी विमान लैंड व टेक आफ कर सकेंगे। एयरपोर्ट अथॉरिटी आफ इंडिया (एएआई) इसके लिए जरूरी संसाधन विकसित करने का कार्य रही है। एयरपोर्ट से भविष्य में श्रीलंका के अलावा, म्यांमार, थाईलैंड, सिंगापुर व जापान से सीधी उड़ान की योजना है। एएआई का कहना है तत्काल तो नहीं किन्तु आने वाले दिनों में यह सुविधाएं भी कार्य करने लगेगी। रात को विमानों को रन वे पर उतारने के लिए एयर ट्रैफिक एडवाइजरी सिस्टम व रन वे पर लाइटिंग इंस्टाल करने की जरूरत होती है। इस दिशा में कार्य हो रहा है किंतु इसमे समय लगेगा। सिस्टम इंस्टाल हो जाने के बाद यहां किसी भी मौसम में चाहे कोहरा हो या या गहरी रात, विमान आराम से उतर सकेंगे। इस एयरपोर्ट पर 3200 मीटर लम्बा रन वे बना है। जिस पर ए-320 व बी-737 विमान व नैरो बॉडी एयरक्राफ्ट लैंड कर सकते हैं। दस बौद्ध देशों को कवर करेगा एयरपोर्ट श्रीलंका से 5-10 अक्टूबर के मध्य आ रही उद्घाटन उड़ान के बाद एएआई एयरपोर्ट को पूरी तरह व्यवस्थित करने के बाद अंतर्राष्ट्रीय उड़ान का विस्तार करेगी। श्रीलंका के भंडारनायके एयरपोर्ट के अलावा सिंगापुर के चांगी एयरपोर्ट, थाईलैंड के बैंकांक एयरपोर्ट, जापान के टोक्यो एयरपोर्ट और म्यांमार के यंगून एयरपोर्ट से दस देशों को कवर करने की योजना पर एएआई कार्य कर रही है। इन देशों से सीधी उड़ान होगी। चीन व साउथ कोरिया के यात्री सिंगापुर एयरपोर्ट से वियतनाम, भूटान, कम्बोडिया के यात्री थाईलैंड के एयरपोर्ट से सीधी उड़ान भर सकेंगे। यह सभी बौद्ध बहुल देश हैं। क्या कहते है एयरपोर्ट निदेशक नोडल अधिकारी व एयरपोर्ट निदेशक गोरखपुर ए के द्विवेदी का कहना है कि फिलहाल सम्भावित उद्घाटन उड़ान पर फोकस है। यह एयरपोर्ट उच्च संसाधन क्षमता का विकसित हो रहा है। आने वाले दिनों में रात्रि में विमान उतरने की सुविधा कार्य करने लगेगी और उड़ान का विस्तार होगा। रात्रि उड़ान बड़ी बात: होटल रॉयल रेजीडेंसी के महाप्रबंधक पंकज कुमार सिंह का कहना है कि कुशीनगर टियर टू शहर की श्रेणी में है। रात्रि उड़ान की सुविधा देश व प्रदेश के मेट्रों सिटी में है। यदि यह सुविधा यहां होती है तो यह बहुत बड़ी बात होगी।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673