आगरा में युवकों की भीड़ ने किया पथराव, पुलिस ने खदेड़ा, इलाके में फोर्स तैनात

आगरा। हाथरस कांड को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। आगरा में शनिवार को कोठी मीना बाजार के पास नगर निगम के आईडीएच वर्कशॉप पर वाल्मीकि समाज के लोगों ने घटना के विरोध में हंगामा किया। इसी बीच युवकों की भीड़ ने पथराव कर दिया। स्थिति को बिगड़ता देख पुलिस ने लाठी फटकारते हुए भीड़ को खेदड़ा।

नगर आयुक्त निखिल टीकाराम ने शुक्रवार को कहा था कि शनिवार से शहर में कूड़ा उठाने का काम शुरू हो जाएगा। वाल्मीकि महापंचायत के पदाधिकारियों से वार्ता के बाद तय हुआ था कि सफाईकर्मी काम पर लौट आएंगे। लेकिन शनिवार की सुबह सफाई कर्मचारियों ने नगर निगम और वाल्मीकि महापंचायत के बीच हुए समझौते को नकार दिया।

वर्कशॉप पर हंगामा, पथराव
कोठी मीना बाजार के पास नगर निगम की आईडीएच स्थित वर्कशॉप पर जब सफाई कर्मचारी पहुंचे, तो काम को लेकर अधिकारियों और उनमें तकरार हुई। उसके बाद राजनगर से आई वाल्मीकि समाज के लोगों की भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया। पथराव होने से इलाके में अफरातफरा मच गई। सूचना मिलते ही डीएम, एसएसपी और नगर आयुक्त पहुंच गए।

पुलिस फोर्स ने पथराव करने वाले युवकों को खदेड़ दिया। पथराव करने वाले युवक राजनगर की वाल्मीकि बस्ती से अचानक पहुंचे थे। राजनगर वाल्मीकि बस्ती में पथराव की घटना के बाद पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। बैरियर लगाए गए हैं। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद सहित फोर्स मौके पर मौजूद हैं।

लगातार चार दिन से नहीं उठा कूड़ा
शहर में लगातार सफाई ठप रहने से चार दिन का लगभग 22 मीट्रिक टन कचरा शहर की सड़कों पर बिखरा हुआ है। गांधी जयंती पर जगह-जगह आयोजित कार्यक्रम में लोगों ने स्वच्छता का संकल्प लिया लेकिन गली-मोहल्लों से लेकर मुख्य बाजारों तक बदबू से बुरा हाल रहा। सफाईकर्मी सामूहिक अवकाश पर चले गए हैं। डलाबघर और कूड़ेदान भर चुके हैं। कचरा अब सड़कों पर फैल रहा है।

 

khabar