लखनऊ। लोहिया संस्थान में बीमार कर्मचारियों की कोविड हॉस्पिटल में ड्यूटी लगाए जाने का मामला गर्मा गया है। गुरुवार को ड्यूटी में मनमानी के खिलाफ नर्सेस संघ के पदाधिकारियों ने निदेशक कार्यालय में धरना दिया। अधिकारियों ने बीमार कर्मचारियों की ड्यूटी काटने का आश्वासन दिया। तब जाकर नाराज कर्मचारी माने।लोहिया संस्थान का कोविड हॉस्पिटल शहीद पथ पर बनाया गया है। इसमें संस्थान के विशेषज्ञ डॉक्टर से लेकर कर्मचारियों तक की बारी-बारी ड्यूटी लगाई जा रही है। गुरुवार को बीमार कर्मचारियों की ड्यूटी लगाए जाने के विरोध में नर्सेस संघ के महामंत्री अमित शर्मा निदेशक कार्यालय पहुंचे। उनके साथ कई कर्मचारी भी थे। मनमानी ड्यूटी के खिलाफ फर्श पर बैठ गए। महामंत्री अमित शर्मा का आरोप है कि संस्थान प्रशासन चेहतों की ड्यूटी नहीं लगा रहा है। बीमार कर्मचारियों की ड्यूटी कोरोना हॉस्पिटल में लगा दी गई है। जबकि मेडिकल बोर्ड ने जांच के बाद कर्मचारियों में बीमारी की पुष्टि की। इसके बावजूद सीएमएस डॉ. राजन भटनागर की तरफ से ड्यूटी रोस्टर जारी किया गया। इसमें अस्थमा, गर्भवती महिलाएं, ऑटो इम्यून डिसीज से पीड़ितों की ड्यूटी कोविड हॉस्पिटल में लगाई गई है। इस पर निदेशक डॉ. नुजहत हुसैन ने नाराज कर्मचारियों को समझाया। बीमार कर्मचारियों की ड्यूटी हटाने का आश्वासन दिया। तब जाकर कर्मचारी माने।

blat