• January 23, 2021

सपा नेताओं ने किसान विल के विरोध मे किया प्रदर्शन, राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाप्रशासन को सौप विल वापस लिये जाने की मांग

 सपा नेताओं ने किसान विल के विरोध मे किया प्रदर्शन, राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाप्रशासन को सौप विल वापस लिये जाने की मांग

हरदोई(लक्ष्मीकान्त पाठक) समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर हरदोई समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा जीतू पटेल के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पदाधिकारियों ने केद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि व श्रमिक विरोधी विधेयक को वापस लिये जाने से सम्बंधित ज्ञापन प्रदर्शन कर राज्यपाल महोदया को जिलाधिकारी हरदोई के माध्यम से सौंपा गया
समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा जीतू पटेल ने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार की नीतियों की वजह से किसानों व श्रमिकों के हितों को गहरा आघात लगा है उन्होंने कहा कि इन नीतियों से कारपोरेट घरानों को ही फायदा होगा किसानों व श्रमिकों की बदहाली और बढ़ेगी उन्होंने कहा कि अर्थवयवस्था के कठिन व खराब दौर में कृषि किसान व श्रमिक ही देश की अर्थवयवस्था को संभालता है अब अनन्दाता को ही हर तरह से निशाना बनाया जा रहा है यदि समय रहते कृषि व श्रमिक बिल वापस नहीं लिया गया तो देश प्रदेश की खेती बर्बाद हो जायेगी मजदूर बँधुआ मजदूर बनकर रह जाएंगे

श्री वर्मा ने कहा कि किसानों के सम्बंध में भाजपा सरकारों का रवैय्या पूर्णतया अन्यायपूर्ण है वह खेती से किसानों का मालिकाना हक छीनना चाहती है इस बिल से एमएसपी सुनिश्चित करने वाली मंडिया घीरे धीरे खत्म हो जाएंगी किसानों की फसल का लाभप्रद मूल्य तो दूर निर्धारित व उचित दाम भी नहीं मिलेगा फसलों को आवश्यक वस्तु अधिनियम से बाहर किय जाने से आढ़तियों व बड़े व्यापारियों को किसानों का शोषण करना आसान हो जायेगा

सच तो यह है कि लम्बे संघर्ष के बाद किसानों को जो आजादी मिली थी कांट्रेक्ट खेती से वो देर सवेर फिर पुराने हाल में लौट जायेगा और अपनी ही खेती पर मजदूर हो जायेगा तंगहाली में किसान आत्महत्या को मजबूर हो जायेगा पिछ्ले 5 वर्षो में हजारों किसान अपनी जान गंवा बैठें है गन्ना किसानों का अभी भी 13 हजार करोड़ रुपए बकाया है किसानों की फसल की लागत से ड्योढ़ी कीमत देने आय दोगुनी करने व सभी कर्जे माफ करने के दावे हवा में रह गए भाजपा नेतृत्व के किसानों के समर्थन में दिये गए भाषणों पर कौन भरोसा करेगा
प्रदेश में अन्ना पशु किसानों की फसल बर्बाद कर रहे हैं खेत मालिक रात रात भर जागकर खेतों की रखवाली करता है सड़कों पर इनकी वजह से रोज दुर्धटनाएं होती है लोग मरते हैं सरकार इनकी रोकथाम के लिए कुछ नहीं कर रही है

पूर्व सांसद ऊषा वर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार की नीति देश की सम्पदा को निजी क्षेत्र को सौंप देने की है उसकी निजीकरण के प्रति दुराग्रह के चलते रोजगार की संभावनाएं घुमिल हो गई है कोरोना संकट में लाखों श्रमिकों का पलायन हुआ है लाक डाऊन में उनकी नौकर रोजगार छिन गया है कोरोना काल 40 में करोड़ लोगों के रोजगार खत्म हो सकते हैं श्रम मंत्रालय का मानना है कि प्रदेश में 16.62 लाख की संख्या नौकरी मांगने वालों की है

पूर्व विधायक राजेश्वरी देवी ने कहा कि कृषि अध्यादेश के बाद भाजपा सरकार श्रमिक विरोधी औधोगिक सम्बंध संहिता बिल 2020 विधेयक लाई है श्रमिक कानून में बदलाव के बाद तो श्रमिकों का शोषण करने का अधिकार फैक्ट्री मालिकों को मिल जायेगा अभी तक 100 कर्मचारी वाले औधोगिक प्रतिष्ठान बिना सरकारी मंजूरी लिए कर्मचारियों को हटा नहीं सकते थे नई व्यवथा में 300 से जादा कर्मचारियों वाली कंपनी सरकार से मंजूरी लिए बिना ही जब चाहें कर्मचारियों को नौकरी से निकाल सकते हैं

सपा जिला महासचिव वीरेन्द्र यादव वीरे नहीं कहा कि नए प्रावधान से फैक्ट्री मालिकों के पास छटनी का एक ऐसा अधिकार मिल जायेगा जिसका दुरुपयोग करके व दबाव डालकर एक तो कर्मचारी युनियन नहीं बनने देंगे साथ ही कर्मचारियों को छटनी का डर दिखाकर बँधुआ मजदूर बनाए रखने के लिए स्वतंत्र होंगे भाजपा कर्मचारियों के हितों की हत्या कर फैक्ट्री मालिकों को मलाई बाँटने का कार्य कर रही है भाजपा किसानों श्रमिकों का मनोबल तोड़ने उन्हें असहाय बनाने की साजिश रच रही है इससे साबित होता है किसानों को फायदा पहुंचाने व श्रमिकों को रोजगार देने के वादे सफेद झूठ है इन कानूनों को वापस लेना चाहिए ऐसी झूठी व प्रपंच रचने वाली सरकार के खिलाफ जनता में आक्रोश है

अतह आपसे निवेदन है कि किसानों व श्रमिकों की सुरक्षा के लिए आप कृषि व श्रमिक विधेयक को वापस लेने और राज्य में लागू न करने के लिए निर्देश देने का कष्ट करें
इस मौके पर पूर्व प्रत्याशी सरताज खां पूर्व जिलाध्यक्ष शराफत अली ,पूर्व जिलाध्यक्ष पदमराग सिंह यादव , पूर्व प्रत्याशी सुभाष पाल, जिला महासचिव वीरेन्द्र सिंह यादव वीरे , वरिष्ठ नेता अनिल सिंह वीरु, जिला उपाध्यक्ष अजय पाल सिंह, जिला उपाध्यक्ष डी डी वर्मा, जिला उपाध्यक्ष, धर्मवीर यादव, जिला उपाध्यक्ष अमित सिंह मीतू, जिला उपाध्यक्ष जब्बार खां, जिला कोषाध्यक्ष अतुल उपाध्याय, नगर अध्यक्ष रियाशत खां, जिला सचिव प्रदीप राजवंशी, सूरज वर्मा, युवजन सभा अध्यक्ष हरिनाम यादव, यूथ ब्रिगेड अध्यक्ष नीरज अवस्थी, लोहिया वाहिनी अध्यक्ष फैजान अहमद,प्रबुद्ध सभा अध्यक्ष प्रशांत मिश्रा, सांस्कृतिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष सतेंद्र यादव सत्या, अल्पसंख्यक सभा अध्यक्ष सईद , अधिवक्ता सभा अध्यक्ष सी पी सिंह यादव, अहमद , जिला सचिव राहुल यादव जिला सचिव राजीव पटेल, जिला सचिव शारदा यादव, आदर्श दीपक मिश्रा , अजय पांडे , पासी जयवीर सिंह ,धनपाल यादव, अशीष त्रिपाठी, धीरज अर्कवंशी,देवेश मिश्रा मिन्टू ,सोहेल खां, अरविंद सिंह , राहुल सिंह , नितीश मिश्रा , चंद्रशेखर पाल, यादवेंद्र यादव ,कौशल यादव आदि लोग मौजूद रहे


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4755