रिपोर्ट दित्यपाल राजपूत

गरीब कल्याण सप्ताह अंतर्गत वन अधिकार के पट्टों का वितरण कार्यक्रम उत्सव भवन में आयोजित

#जिलेमें_155वनअधिकारकेपट्टोंकाकियागया_वितरण

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में 16 सितम्बर से 23 सितम्बर तक मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण सप्ताह आयोजित किया जा रहा है। इसी के तहत सप्ताह के चौथे दिन आज 19 सितम्बर को प्रदेश में वनाधिकार उत्सव मनाया गया। टीकमगढ़ में विधायक श्री राकेश गिरि गोस्वामी के मुख्य आतिथ्य तथा कलेक्टर श्री सुभाष कुमार द्विवेदी एवं वन मण्डलाधिकारी श्री एपीएस सेंगर, की उपस्थिति में जिला स्तरीय कार्यक्रम स्थानीय उत्सव भवन में प्रातः 11 बजे से शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ उपस्थित अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर किया। तत्पश्चात जनपद पंचायत टीकमगढ़ के 30 हितग्राहियों को वन अधिकार के पट्टों (हक प्रमाण पत्रों) का वितरण किया गया। इस अवसर पर वन मण्डलाधिकारी श्री एपीएस सेंगर, एसडीएम टीकमगढ़ श्री सौरभ मिश्रा, एसीईओ जिला पंचायत श्री चंद्रसेन सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री बृजेश त्रिपाठी सहित संबंधित अधिकारी एवं हितग्राही उपस्थित रहे। इसके साथ ही जिले के सभी विकाखण्डों में 155 वन अधिकार पट्टों (हक प्रमाण पत्रों) का वितरण समारोह पूर्वक किया गया। इसके तहत जनपद पंचायत बल्देवगढ़ में 19, जनपद पंचायत जतारा में 37 तथा जनपद पंचायत पलेरा में 69 हितग्राहियों को वन अधिकार के पट्टों (हक प्रमाण पत्रों) का वितरण किया गया। इन कार्यक्रमों में राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी देखा गया।

इस अवसर पर विधायक श्री गिरि ने कहा कि जिन अनुसूचित जनजाति वर्ग के भाइयों को आज पट्टे वितरित किए जा रहे हैं उन्हें मनरेगा एवं शासन की अन्य योजनाओं से भी लाभान्वित किया जाये, जिससे वे और अधिक बेहतर तरीके से जीवन-यापन कर सकें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार अनुसूचित जनजाति वर्ग के भाई-बहनों को उनका वाजिब हक दिलवाने के लिए सदैव तत्पर रहती है। मध्यप्रदेश में वनाधिकार अधिनियम के प्रभावी क्रियान्वयन की शुरूआत सबसे पहले मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में एक जनवरी 2018 से की गई। अभी तक प्रदेश में लगभग 2 लाख 70 हजार व्यक्तिगत एवं 29 हजार 996 सामुदायिक वनाधिकार-पत्र मान्य हो चुके हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान का संकल्प है प्रत्येक पात्र अनुसूचित जनजाति वर्ग के भाई-बहन को उसकी काबिज भूमि का अधिकार प्रदान करना।

कार्यक्रम में कलेक्टर श्री द्विवेदी ने बताया कि आज जिले के चारों विकास खंडों में कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं जिसमें से 155 को आज पट्टा दिया जा रहा। इनमें से टीकमगढ़ में 30, बल्देवगढ़ में 19, जतारा में 37 तथा पलेरा में 69 पट्टे वितरित किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि विगत डेढ़ माह से वर्षों से वन भूमि पर काबिज लोगों के आवेदनों पर विचार किया जा रहा था तथा उनकी जांच की जा रही थी। इसके तहत 1086 आवेदन आये, जिनमें से 162 अभी पट्टा वितरण के लिए स्वीकृत किये गये हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश में अनुसूचित जनजाति वर्ग के सभी पात्र हितग्राहियों को वनाधिकार पट्टों का प्रदाय किया जा रहा है।

भोपाल में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हितग्राहियों को वनाधिकार पट्टों का वितरण किया। उन्होंने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी हितग्राहियों को संबोधित किया तथा कुछ के साथ बातचीत भी की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वनाधिकार पुस्तिका का विमोचन भी किया। कार्यक्रम का दूरदर्शन के क्षेत्रीय चैनल्स के साथ ही वेबकास्ट, ट्विटर, फेसबुक, यू-ट्यूब के माध्यम से सीधा प्रसारण देखा गया। इस अवसर पर प्रदेश के 47 जिलों में 22 हजार से अधिक वनाधिकार पत्रों का वितरण किया गया।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673