लखनऊ। उत्तर प्रदेश की आठ विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने हर सीट के लिए एक उच्च अधिकार प्राप्त समिति गठित की है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बुधवार को बताया कि उपचुनाव की तैयारी के तहत हर सीट पर उम्मीदवारी के दावेदारों का आवेदन लेने के लिए एक उच्च अधिकार प्राप्त समिति गठित का गठन किया गया है। प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में बनी समिति ही उम्मीदवार का नाम तय करेगी। गौरतलब है कि विधायकों के निधन तथा अन्य कारणों से रिक्त हुई नौगवां सादात (अमरोहा), बुलंदशहर, टुंडला (फिरोजाबाद), स्वार (रामपुर), बांगरमऊ (उन्नाव), घाटमपुर (कानपुर देहात), मल्हनी (जौनपुर) और देवरिया सदर सीट पर उपचुनाव होने हैं। लल्लू ने बताया कि घाटमपुर (सुरक्षित) सीट की जिम्मेदारी पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, पूर्व मंत्री आर के चौधरी एवं पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश दीक्षित को दी गयी है। इसके अलावा मल्हनी सीट की जिम्मेदारी पूर्व विधायक अजय राय, पूर्व विधायक राम जियावन तथा पार्टी के महासचिव मकसूद खान को सौंपी गयी है। उन्होंने बताया कि देवरिया सदर सीट की जिम्मेदारी पूर्व विधायक नदीम जावेद, पूर्व सांसद बालकृष्ण चौहान तथा पार्टी के महासचिव विश्वविजय सिंह को दी गयी है। बांगरमऊ सीट की जिम्मेदारी कानपुर कैण्ट से विधायक एवं प्रदेश उपाध्यक्ष सुहैल अख्तर अंसारी, पूर्व विधायक संजीव दरियाबादी और पार्टी के महासचिव विवेकानन्द पाठक को सौंपी गयी है। इसी तरह टूण्डला विधानसभा की जिम्मेदारी वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पूर्व मंत्री दीपक कुमार और प्रदेश महासचिव बदरूद्दीन कुरैशी को दी गयी है। नौगवां सादात की जिम्मेदारी पूर्व सांसद प्रवीन सिंह ऐरन, विधायक नरेश सैनी, प्रदेश महासचिव अली यूसुफ अली को सौंपी गयी है। इसके अलावा बुलन्दशहर की जिम्मेदारी पूर्व सांसद हरेन्द्र मलिक, विधायक मसूद अख्तर, कांग्रेस महासचिव विदित चौधरी तथा रामपुर विधानसभा क्षेत्र की जिम्मेदारी पूर्व सांसद राशिद अल्वी, पूर्व विधायक नरेन्द्र पाल गंगवार तथा कांग्रेस महासचिव ब्रम्हस्वरूप सागर को सौंपी गयी है।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673