अमेठी। केंद्रीय मंत्री व सांसद स्मृति इरानी ने अपने संसदीय क्षेत्र के हुनरमंद हाथों को स्वरोजगार का अस्त्र देकर आगे बढऩे में मदद की नई पहल की है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए अपनों से संवाद कार्यक्रम में लोगों की समस्याओं के साथ युवाओं को स्वरोजगार से जोडऩे की भी कोशिश हो रही है। स्वास्थ्य शिक्षा के साथ रोजगार पर स्मृति का खासा फोकस है। कोरोना आपदा के समय परदेश से वापस गांव लौटे लोगों के साथ ही गांव व कस्बों में रहने वाले हुनरमंद युवाओं को केंद्रीय मंत्री स्वरोजगार से जोडऩे के लिए फिक्रमंद हैं। ऐसे में अमेठी विधान सभा क्षेत्र में ई चौपाल के जरिए जब वह लोगों की समस्या सुन रही थी। उसी बीच भेटुआ ब्लाक के सराय मोहन गांव की बेटी ज्योति ने बताया कि दीदी मेरे पिता की बचपन में ही मौत हो गई थी। दादा.दादी के साथ बुआ ने पाला। 2015 में दादा की भी मौत हो गई। अब घर में वह अपनी बूढ़ी दादी के साथ रहती है। उसे कपड़ा सिलाई का काम आता है पर हम नई मशीन नहीं खरीद सकते हैं। ज्योति की बात सुन स्मृति ने अपने प्रतिनिधि विजय गुप्ता को सिलाई मशीन के साथ हर संभव मदद करने का निर्देश दिया। वहीं चौपाल खत्म होने के बाद सत्थान सेवा संस्थान के महेंद्र पाड़ेय नई सिलाई मशीन लेकर ज्योति के घर पहुंचे और बताया कि दीदी स्मृति ने आपके लिए भेजा है।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673