स्लग -कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करने पर हॉस्पिटल के खिलाफ एफआईआर दर्ज

मुरादाबाद  उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद में हॉस्पिटल के द्वारा कोविड-19 नियमों का उल्लंघन किया जा रहा था जिसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था विभागीय अधिकारियों ने मामले का संज्ञान लेते हुए आज हॉस्पिटल पर छापामार कार्रवाई की जिसमें अधिकारियों को अनेकों खान नजर आए इस दौरान नगर निगम की ओर से थाना गलशहीद में हॉस्पिटल संचालक के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई गई है तो वही प्रदूषण विभाग और चिकित्सा विभाग की कार्यवाही में जुटा है अधिकारियों का कहना है कि यदि डॉक्यूमेंट नहीं दिखाए गए तो हॉस्पिटल को सीज किया जाएगा।

वीओ – दरअसल मामला है जनपद मुरादाबाद के थाना गलशहीद क्षेत्र अंतर्गत रामपुर रोड का प्रिंस नर्सिंग होम के नाम से संचालित हॉस्पिटल के स्टाफ द्वारा कोविड-19 वेस्ट मटेरियल बाहर फेंका जा रहा था जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ और अधिकारियों ने इसका संज्ञान लिया राज अधिकारियों ने छापामार कार्यवाही करते हुए हॉस्पिटल के अभिलेखों की जांच की तो आने को खा लिया अधिकारियों को नजर आई सर्वप्रथम करते हुए नगर निगम ने हॉस्पिटल संचालक के खिलाफ थाना गलशहीद में एफ आई आर दर्ज कराई है तो वही प्रदूषण विभाग अपनी रिपोर्ट बनाकर लखनऊ भेज रहा है इस दौरान स्वास्थ्य विभाग अभिलेखों की जांच कर रहा है अधिकारियों का कहना है कि यदि हॉस्पिटल के अभिलेख नहीं दिखाए गए तो हॉस्पिटल को सीज भी किया जाएगा।

वीओ 2 – आपको बता दें कि प्रिंस नर्सिंग होम बेसमेंट में संचालित है और बकायदा वहां पर मरीजों के ऑपरेशन भी किए जा रहे है। विभागीय टीम के पहुंचने पर हॉस्पिटल के डॉक्टर गायब हो गए तो वही अभी तक हॉस्पिटल स्टाफ के द्वारा अधिकारियों को अभिलेख नहीं दिखाए गए हैं। बीच शहर में अनियमितताओं के साथ हॉस्पिटल का संचालन होना विभागीय अधिकारियों पर भी सवालिया निशान खड़ा करता है क्योंकि सबसे बड़ा सवाल यह है कि जब बेसमेंट में हॉस्पिटल को संचालित करने की परमिशन हो ही नहीं सकती तो आपके यहां कैसे परमिशन मिल गई और अग्निशमन के यंत्र कैसे हॉस्पिटल में लग गए यह एक बड़ा सवाल है।

blat