लखनऊ। कोविड 19 के निरंतर बढ़ते संक्रमण और प्रतिदिन इस महामारी द्वारा ग्रसित जनमानस की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए मंडल प्रशासन इस वायरस से अपने समस्त रेलकर्मियों एवं उनके परिवारों की सुरक्षा तथा बचाव हेतु निरंतर प्रयासरत है एवं इसी क्रम में चिकित्सा विभाग के सहयोग से सम्पूर्ण मंडल पर कोविड-19 की जांच हेतु वृहद् स्तर पर एक नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कार्यक्रम को संचालित किया जा रहा है, जिसके अंतर्गत मंडल पर स्थित मंडलीय चिकित्सालय ,स्वास्थ्य यूनिटों द्वारा एक सुनियोजित एवं क्रमबद्ध रूपरेखा को निर्धारित करते हुए मंडलीय कार्यालय में स्थित विभिन्न विभागों सहित मंडल के अन्य स्थानों ,कार्यालयों ,यूनिटों तथा रेल से सम्बद्ध समस्त स्थानों पर कार्य करने वाले रेलकर्मियों की नियमित स्वास्थ्य के परीक्षण का प्रावधान किया गया है ,ताकि किसी भी संक्रमित कर्मचारी की तत्काल पहचान करते हुए उसका यथोचित उपचार कराया जा सके साथ ही उसके साथ कार्य करने वाले अन्य कर्मियों एवं उनके परिजनों को इस संक्रमण से सुरक्षित रखा जा सके, इस चिकित्सकीय परीक्षण प्रक्रिया के अंतर्गत मंडल का चिकित्सा दल एवं अन्य पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा मंडल के विभिन्न स्थानों पर कर्मचारियों के स्वास्थ्य का परीक्षण किया जा रहा है तथा निरंतरता से इसको नियमित तौर पर संचालित करने का प्रावधान किया गया है प्इसी स्वास्थ्य परीक्षण के तहत आज दिनांक 29.07.20 को मंडलीय कार्यालय स्थित सभागार में लगभग 100 अधिकारियों एवं कर्मचारियों का ब्व्टप्क्19 परीक्षण करने के साथ ही कर्मचारियों के मध्य उत्तर रेलवे महिला कल्याण संगठन ,लखनऊ द्वारा निर्मित मास्कों को वितरित करते हुए कर्मियों को इस महामारी से सुरक्षा एवं बचाव हेतु संवाद स्थापित कर आवश्यक सूचनाओं से भी अवगत कराया गया, मंडल रेल प्रबंधक,उत्तर रेलवे लखनऊ संजय त्रिपाठी ने इस विषय में अवगत कराया कि ब्व्टप्क्-19 के भीषण प्रकोप से कर्मचारियों के बचाव एवं सुरक्षा हेतु नियमित तौर पर इस स्वास्थ्य परीक्षण कार्यक्रम का प्रबंध किया गया है ताकि रेलकर्मी पूर्णतय: स्वस्थ रहकर पूर्ण मनोयोग से उच्च गुणवत्ता पूर्ण सेवाएं प्रदान कर सकें तथा समस्त रेल कार्य को यथा समय सम्पादित किया जा सके।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673