बीमारी से तंग आकर अधेड़ ने नीम के पेड मे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली

उन्नाव। पुरवा कोतवाली क्षेत्र के लंगरपुर गांव में बीती रात बीमारी से तंग होकर एक 80 वर्षीय वृद्ध छोटे लाल ने नीम के पेड़ में फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली। परिजनों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पी एम के लिए भेजा गया है। प्राप्त विवरण के अनुसार मृतक के पुत्र राजेन्द्र कुमार ने बताया कि रात में सभी लोग खाना खाकर सोने चले गए। दरवाजे के बरामदे में पिता छोटेलाल उम्र लगभग 80 वर्ष लेटे थे। माता प्रभुदेई और मेरा परिवार घर में सो रहा था। तभी बाहर बरामदे में बनधी बकरियां लडऩे लगी जिनकी आवाज सुनकर रात तीन बजे करीब घर के बाहर जाने पर देखा तो कुंडी बाहर से लगी थी। आवाज लगायी तो पड़ोसी पवन ने आकर कुण्डी खोली तो देखा कि पिता बिस्तर पर नहीं है, तो बगल के कमरे में लेटी माता को जगाया तो समझा कि पिता छोटे लाल खेतों पर पानी लगाने गये होंगे। तलाश करते हुए खेत पर जाकर देखा तो घर से लगभग 500 मीटर दूर स्थित नीम के पेड़ के पास पहुंचे तो देखा कि चप्पल और लुंगी टार्च जमीन पर रखी है और शव पेड़ पर रस्सी के सहारे लटका है। किसी तरह शव नीचे उतारा तो देखा पिता छोटे लाल की मौत हो चुकी थी। शोर गुल की आवाज सुनकर पड़ोसी और परिजन मौके पर पहुंचे और शव को घर लाने के बाद 112 पर पुलिस को सूचना दी गयी। जिस पर कोतवाली के दरोगा थान सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक का एक पुत्र राजेन्द्र कुमार रोजी रोजगार के लिए दिल्ली में नौकरी करता है। इस घटना को लेकर मृतक की वृद्ध पत्नी प्रभुदेई का रो-रो कर बुरा हाल हैघ्। कोतवाल अनिल सिंह ने बताया कि 80 वर्षीय वृद्ध ने पेड़ में रस्सी के जरिए फांसी लगा ली है। शव पोस्टमार्टम को भेजा गया है।

blat