राम मंदिर के भूमि पूजन अन्य धर्म गुरूओं को भी बुलाया जाए: सिराज मेंहदी

लखनऊ। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिराज मेहंदी ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि आगामी 5 अगस्त को अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन में अन्य धर्मों के धर्मगुरुओं को भी आमंत्रित किया जाए। इस बारे में उन्होंने प्रधानमंत्री को एक पत्र भी लिखा है। इस पत्र में 5 अगस्त को प्रधानमंत्री के अयोध्या आगमन पर उनका स्वागत करते हुए सिराज मेंहदी ने अपनी शिकायत दर्ज करवाई है। पत्र में कहा गया है कि इस आयोजन में दूसरे धर्म के धर्मगुरुओं को आमंत्रित न किया जाना न केवल चिंता का विषय है बल्कि हमारे राष्ट्र की सेक्यूलर छवि और सर्वधर्म सम्भाव के मूलमंत्र को आघात पहुंचाने वाला कदम है। सिराज मेहंदी ने कहा है कि प्रभु श्रीराम के कृतित्व और व्यक्तित्व का यह देश हमेशा से अनुयाई रहा है, ऐसी महान शख्सियत को किसी धर्म विशेष के दायरे में सीमित करना उन लाखों लोगों की भावनाओं के साथ अन्याय होगा, जिनकी आस्था सदियों से सर्वधर्म सम्भाव में रही है। उन्होंने कि बेशक वह देश की एक बड़ी सियासी पार्टी से जुड़े हुए हैं। मगर उन्हें उम्मीद है कि उनकी इस भावना प्रधानमंत्री या उनकी पार्टी और सरकार राजनीतिक चश्मे से नहीं देखेंगे।उन्होंने कहा है कि अगर इस आयोजन में दूसरे धर्म गुरुओं जैसे मुस्लिम, सिख, ईसाई, जैन बौद्ध आदि धर्मगुरुओं को आमंत्रित किया जाए तो वह भी इस ऐतिहासिक पल के गवाह बनेंगे और इससे हमारी सदियों पुरानी धार्मिक समरसता व एकजुटता प्रदर्शित होगी।

blat