बेरोजगारी से परेशान युवक ने पार्क में फांसी लगाकर दी जान

लखनऊ। कोरोना के चलते लॉकडाउन में आर्थिक तंगी और बेरोजगारी से परेशान होकर अब लोग आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे है। ऐसा ही एक मामला राजधानी लखनऊ के आशियाना में बेरोजगारी से आर्थिक तंगी और बेरोजगारी से परेशान हुआ तो मानमिक तनाव को नहीं झेल पाया और परेशान युवक ने सोमवार देर रात सेक्टर डी वन स्थित ग्रीन बेल्ट पार्क में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इंस्पेक्टर आशियाना के मुताबिक, कृष्णानगर डी सेक्टर निवासी एसबीआई बैंक में सुरक्षा कर्मी विनोद पांडेय के बेटे देवेंद्र (32) ने देर रात पार्क के पीछे वाले हिस्से में फांसी लगा ली। उसके पास से मिले बैग में रखे शैक्षिक प्रमाण पत्रों के आधार पर शिनाख्त हुई। मृतक के पिता के मुताबिक घर में उसकी मां गायत्री, भाई दीपक व बहन गुंजा है। मृतक का नाम देवेंद्र है। वह लॉकडाउन से बेरोजगार चल रहा था। उसे नौकरी न मिलने से काफी परेशान चल रहा था। शनिवार घर से सभी शैक्षिक प्रमाण पत्र लेकर नौकरी की तलाश में निकला था। देवेंद्र ने बेरोजगारी एवं मानसिक तनाव की वजह से आत्महत्या कर लिया है। घटना की जानकारी मिलते ही थाना कोतवाली की पुलिस मौके पर पहुंची, और युवक को फांसा के फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। युवक की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

blat