जीआरपी ने महिला को सकुशल परिजनों को सौंपा

लखनऊ। उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के रेलवे सुरक्षा बल ने सदैव की भांति अपनी अनुकरणीय सेवाओं का प्रदर्शन करते हुए एक महिला को सकुशल उसके परिजन को सौंपा। प्रकरण के अनुसार विश्वस्त सूत्रों के आधार पर मंडल के उन्नाव स्टेशन स्थित रेलवे सुरक्षा बल के पोस्ट कार्यालय को सूचना प्राप्त हुई की दिनांक 26.07.20 को गाड़ी संख्या 09166 के कोच संख्या बी 2 में एक महिला बेसुध अवस्था में एक नवजात शिशु के साथ यात्रा कर रही है। सूचना प्राप्त होते ही इसपर तत्काल कार्यवाही करते हुए ऑन ड्यूटी आर. पी.एफ.स्टाफ ने महिला कर्मचारी के साथ गाड़ी के उन्नाव पहुंचने पर उक्त कोच की जांच की एवम् एक महिला यात्री को एक नवजात शिशु के साथ यात्रा करते हुए पाया।तत्काल कर्मचारियों द्वारा महिला एवम् बच्चे को अपना संरक्षण एवम् सुरक्षा प्रदान करते हुए महिला कर्मी की सहायता से उक्त यात्री महिला को गाड़ी से उतारकर पोस्ट कार्यालय पर लाकर उससे पूछताछ की गई जिसमे उक्त महिला ने अपना नाम सुशीला सिंह पत्नी कन्हैया सिंह,उम्र 30 वर्ष निवासी रेहुुवाखास,थाना राजा बोंडी,जिला बहराइच एवम् अपने पति का मोबाइल नंबर भी बताया। स्टाफ द्वारा तत्काल उस मोबाइल पर संपर्क करके महिला के परिजन को समस्त सूचना से अवगत कराया गया। तदोपरांत कन्हैया सिंह पुत्र शिव कुमार सिंह ने उन्नाव स्टेशन पहुंचकर अपनी पत्नी की पहचान की एवम् यात्री महिला द्वारा भी उक्त व्यक्ति की पहचान अपने पति के रूप में की गई। उसके पति ने स्टाफ को बताया कि पारिवारिक विवाद के कारण उसकी पत्नी घर से नाराज होकर चली आई है।रेलवे सुरक्षा बल द्वारा उक्त महिला यात्री की स्वेच्छा से समस्त आवश्यक कार्यालय कार्यवाही सम्पूर्ण करते हुए पूर्ण आश्वस्त होने के उपरांत इस महिला एवम् बच्चे को उसके पति को सकुशल सुपुर्द किया गया। इस पुनीत कार्य हेतु महिला के परिजन द्वारा रेलवे के प्रति कृतज्ञता पूर्ण आभार व्यक्ति करते हुए भूरि भूरि प्रशंसा की गई।

blat